S M L

भारत-साउथ अफ्रीका दूसरा वनडे: 'घायल' मेजबानों पर वार करने के लिए तैयार है टीम इंडिया

एबी डि विलीयर्स के बाद साउथ अफ्रीका के कप्तान ड्यू प्लेसी के भी चोटिल होने बाद दूसरे वनडे में टीम इंडिया का पलड़ा है भारी, सीरीज में 1-0 से आगे हैं भारत

FP Staff Updated On: Feb 03, 2018 05:32 PM IST

0
भारत-साउथ अफ्रीका दूसरा वनडे: 'घायल' मेजबानों पर वार करने के लिए तैयार है टीम इंडिया

डरबन में मेजबान टीम पर ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के बाद टीम इंडिया अब बुलंद हौसलों के साथ साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के के दूसरे मुकाबले के लिए तैयार है. सेंचुरियन में रविवार को होने वाले इस मुकाबले में टीम इंडिया का पलड़ा मेजबान टीम के मुकाबले काफी भारी नजर आ रहा है.

पहले से ही सीरीज में 0-1 से पिछड़ चुकी साउथ अफ्रीका की टीम के लिए मुसीबतें कम होती नहीं दिख रही हैं. टीम के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज एबी डिविलीयर्स के बाद अब कप्तान फाफ ड्यू प्लेसी भी टीम चोटिल होकर टीम से बाहर हो चुके हैं. ड्यू प्लेसी की जगह मार्करम को टीम की कमान सौंपी गई है.

kohli rahane

इस दौरे के पहले दो टेस्ट मैचों में मात खाने वाली टीम इंडिया अब पूरी तरह से बदली हुई दिख रही है. तीसरे टेस्ट में मिली जीत के बाद भारतीय टीम के तेवर किस कदर बदल गए हैं इसका नजारी डरबन वनडे में देखने को मिला था. कप्तान कोहली के शानदार शतक और रहाणे की बेमिसाल पारी ने मेजबान टीम के गेंदबाजों को बैकफुट पर धकेल दिया है.

डरबन में भारत ने 270 के स्कोर को बड़ी आसानी से हासिल कर लिया था. लिहाजा साउथ अफ्रीका के बल्लेबाज इस मैच में बड़ा स्कोर खड़ा करके टीम इंडिया को दबाव में लाने की कोशिश करेंगे लेकि इसके लिए उन्हें भारत के स्पिनरों की जोड़ी यानी चहल और कुलदीप यादव से पार पानी होगी जो उनके लिए मुश्किल काम है.

क्या कहते हैं आंकड़े

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच इससे पहले कुल 78 वनडे मुकाबले खेले गए हैं . इनमें से 45 बार साउथ अफ्रीका को और 30 बार भारत को जीत मिली है. तीन मुकाबले बेनतीजा समाप्त हुए हैं.

जहां तक सवाल सेंचुरियन के मैदान का है तो यहां भारत की टीम के लिए इतिहास उतना बुरा नहीं है जितना डरबन में था. साउथ अफ्रीका में यही इकलौता मैदान है जहां भारत ने मेजबान टीम को एक से ज्यादा बार मात दी है. दोनों टीमों के बीच यहां नौ मुकाबले खेले गए हैं. इनमें से पांच बार मेजबान टीम ने जीतल हासिल की है जबकि दो बार भारत जीता है. दो मुकाबले बेनतीजा रहे हैं. भारत ने सेंचुरियन में कुल 11 मुकाबले खेले हैं जिनमें से उसे तार में जीत मिली है जबकि पांच में उसे हार का सामना करना पड़ा है.

बहरहाल इस दौरे पर अब जो हालात बन गए हैं उसे देखकर लगता है टीम इंडिया सेंचुरियन में तो अपना रिकॉर्ड सुधारेगी है साथ ही सीरीज में भी 2-0 की बढ़त बना लेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi