S M L

भारत बनाम साउथ अफ्रीका, पहला टेस्ट: शतक से चूके पांड्या ने जीता दिल

केपटाउन में खेले जा रहे मुकाबले के दूसरे दिन पांड्या ने 93 रन की दिलेर पारी खेलकर टीम इंडिया की मैच में कराई वापसी

Sumit Kumar Dubey Sumit Kumar Dubey Updated On: Jan 06, 2018 08:03 PM IST

0
भारत बनाम साउथ अफ्रीका, पहला टेस्ट:  शतक से चूके पांड्या ने जीता दिल

केपटाउन में साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में एक ओर जहां भारत की बल्लेबाजी ताश के पत्तों की तरह ढह रही थी वहीं दूसरी और हार्दिक पांड्या ने अपनी धुआंधार पारी से टीम इंडिया को मुकाबले से बाहर नहीं होने दिया. पांड्या हालांकि अपना शतक पूरा नहीं कर सके लेकिन उनकी पारी ने फैंस का दिल जरूर जीत लिया.

दूसरे दिन लंच से पहले के खेल में जहां भारत ने बस रोहित शर्मा का ही विकेट खोया था वहीं लंच के बाद धड़ाधड़ विकेट गिरने लगे.

एक वक्त पर ऐसा लग रहा था कि भारत पहली पारी में काफी पिछड़ जाएगा लेकिन पांड्या ने अपने खेल से भारत की पारी की तस्वीर को बदल दिया.

लंच के ठीक बाद पहली ही गेंद पर जब पुजारा फिलेंडर का शिकार बनकर पैवेलियन लौटे तब भारत का स्कोर पांच  विकेट पर 76 रन हो गया. उसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे पांड्या इससे पहले अपनी निगाहें जमा भी पाते कि 81 रन के कुल स्कोर पर आर अश्विन पैवेलियन वापस लौट गए. थोड़ी ही देर बाद रिद्धिमान साहा जब पांड्या का साथ छोड़कर गए तब स्कोर सात विकेट पर 92 रन था.

भुवनेश्वर के साथ की 99 रन की पार्टनरशिप

साहा के जाने के बाद पांड्या ने भुवनेश्वर कुमार के साथ मिलकर साउथ अफ्रीका गेंदबाजों का डट कर मुकाबला किया. पांड्या ने खुलकर खेलते हुए कई बार गेंद का बाउंड्री के पार भेजा और इसी के चलते मेजबान गेंदबाज रक्षात्मक रुख अपनाने पर मजबूर हो गए. पांड्या ने 47 गेंदों पर 10 चौकों की मदद से अपने अर्द्धशतक पूरा किया .

South Africa bowler Morne Morkel delivers to India Hardik Pandya during the second day of the first Test cricket match between South Africa and India at Newlands cricket ground on January 6, 2018 in Cape Town, South Africa. / AFP PHOTO / MARCO LONGARI

चाय के वक्त तक पांड्या भुवनेश्वर कुमार के साथ मिलतर आठवे विकेट के लिए 116 गेंदों पर 96 रन जोड़ चुके थे. हालांकि यह पार्टनरशिप तीन अंकों में नहीं पहुंच सकी और चाय के बाद भुवी 25 रन बनाकर उनका साथ छोड़ गए.

इस पारी में पांड्या को जीवनदान भी मिले. 15 रन के निजी स्कोर पांड्या का कैच एल्गर ने गली में छोड़ दिया. वहीं केशव महाराज की गेंद पर विकेटकीपर ने उनकी स्टंपिंग का मौका भी गंवाया.

आखिर में पांड्या 93 रन बनाकर राबादा का शिकार बनकर अपने शतक से महज सात रन से चूक गए लेकिन उनका इस पारी ने टीम इंडिया को मैच में वापस ला दिया.

इस मैच का नतीजा चाहे जो हो. लेकिन पांड्या की पारी ने भारतीय टीम के मनोबल को जरूर बढ़ा दिया होगा जिसका असर अब इस दौरे पर देखने को मिलेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi