S M L

भारत-साउथ अफ्रीका पहला वनडे: पहली जीत के साथ यह रिकॉर्ड भी हैं खास

भारत ने पहले वनडे में छह विकेट से जीत हासिल की और इस जीत के साथ कई रिकॉर्ड अपने नाम किया

FP Staff Updated On: Feb 02, 2018 10:01 AM IST

0
भारत-साउथ अफ्रीका पहला वनडे: पहली जीत के साथ यह रिकॉर्ड भी हैं खास

टेस्ट सीरीज हारने के बाद लगता है भारत वनडे सीरीज भरपाई करने में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहता. गुरुवार को खेले गए पहले वनडे में जिस तरह भारतीय टीम ने प्रदर्शन किया उससे साफ है कि वनडे सीरीज और ज्यादा रोमांचक होने वाली है. पहले वनडे में भारतीय टीम ने जीत के साथ कई रिकॉर्ड भी अपने नाम किए. कप्तान विराट कोहली से लेकर गेंदबाज कुलदीप यादव तक खिलाड़ियों ने रिकॉर्डों का अंबार लगा दिया.

किंग्समीड के मैदान पर भारती की यह पहली जीत है. भारतीय टीम ने इस जीत के साथ साउथ अफ्रीका के वनडे में घरेलू मैदान पर 17 मैच की लगातार जीत का विजयी रथ रोक दिया. डरबन के इस मैदान पर भारत ने 270 रनों का जो लक्ष्य हासिल किया वो इस मैदान पर हासिल किया जाना वाला सबसे बड़ा स्कोर है. इससे पहले साल 2002 में ऑस्ट्रेलिया ने इस मैदान पर 268 रनों का लक्ष्य हासिल किया था.

इस लक्ष्य को हासिल करने में अहम भूमिका निभाने वाले विराट कोहली ने साउथ अफ्रीका में अपना पहला शतक लगाकर अपने 33 शतक पूरे किए. उनके अलावा शुरुआती दो टेस्ट में बाहर रहने के बाद तीसरे टेस्ट में वापसी करने वाले रहाणे ने भी 79 की अपनी से खुद  सचिन और द्रविड़ के क्लब में शामिल कर लिया.

रहाणे हुए द्रविड़, सचिन के क्लब में शामिल

भारत के लिए वनडे क्रिकेट में सबसे पहले 50 प्लस के लगातार पांच स्कोर बनाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर ने 1994 में बनाया था. जबकि राहुल द्रविड़ ने यह मुकाम 2004-05 में हासिल किया था. उन्होंने अपना एक 50 प्लस का स्कोर एशिया इलेवन के लिए बनाया था. वहीं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली दो बार यह कारनामा कर चुके हैं. उन्होंने 2012 और 2013 में दो बार 50 प्लस के पांच स्कोर किए हैं.

अब इस सूची में नया नाम रहाणे के रूप में शामिल हुआ है. उनका ये सफर आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ 21 सितंबर 2017 को कोलकाता से शुरू हुआ था और तब रहाणे ने 55 रन की पारी खेली थी. इसके बाद उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इंदौर, बेंगलुरू और नागपुर में क्रमश: 70, 53 और 61 रन की पारियां खेलीं. जबकि रहाणे का 5वां 50 प्लस का स्कोर साउथ अफ्रीका के खिलाफ डरबन में 79 रन के रूप में आया है.

कुलदीप का रिकॉर्ड

कुलदीप यादाव ने इस मैच में 34 रन देकर तीन झटकें.यह बॉलिंग फिगर वनडे में साउथ अफ्रीका में उसी के खिलाफ किसी भी भारतीय स्पिनर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi