विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

भारत-न्यूजीलैंड, पहला टी20 मैच: पहली बार भारत ने न्यूजीलैंड को हराया

पहले टी20 मैच में 53 रन से जीता भारत, शिखर धवन बने मैन ऑफ द मैच

FP Staff Updated On: Nov 01, 2017 11:22 PM IST

0
भारत-न्यूजीलैंड, पहला टी20 मैच: पहली बार भारत ने न्यूजीलैंड को हराया

भारत ने न्यूजीलैंड को पहले टी20 मैच में 53 रन से हराते हुए ना केवल सीरीज में बढ़त बना ली बल्कि कीवी टीम को इस फॉर्मेट में पहली बार मात दी. इसी के साथ आशीष नेहरा भी जीत के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट से विदा हुए.

इस मैच में पूरी भारतीय टीम ने शानदार खेल दिखाया, सभी खिलाड़ियों ने अपना सर्वश्रेठ प्रदर्शन किया. न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया लेकिन रोहित और धवन ने उनका ये फैसला गलत साबित किया. दोनों ही ओपनर ने भारतीय टीम को 150 से ज्यादा की ओपनिंग दी.

अपने घरेलू मैदान पर खेल रहे धवन ने 52 गेंदों पर नौ चौकों और दो छक्कों की मदद से 80 रन बनाए.बकि रोहित ने 55 गेंदों पर 80 रन की पारी खेली जिसमें चार छक्के और छह चौके शामिल हैं.

इन दोनों ने पहले विकेट के लिये 158 रन जोड़े जो भारत की तरफ से किसी भी विकेट के लिये सर्वश्रेष्ठ साझेदारी है.विराट कोहली ने 11 गेंदों पर नाबाद 26 रन बनाए. इससे पहले बल्लेबाजी का न्यौता पा ने वाले भारत ने तीन विकेट पर 202 का विशाल स्कोर खड़ा किया.

इसके जवाब में विश्व की नंबर एक टी20 टीम न्यूजीलैंड आठ विकेट पर 149 रन ही बना पाई. उसकी तरफ से टाम लाथम (39), कप्तान केन विलियमसन (28) और मिचेल सैंटनर (नाबाद 27) ही बीस रन के पार पहुंच पाए. भारत के लिये अक्षर पटेल ने 20 रन देकर दो, युजवेंद्र चहल ने 26 रन देकर दो जबकि भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या ने एक एक विकेट लिया. नेहरा ने चार ओवर किये और 29 रन दिए लेकिन उन्हें विकेट नहीं मिला.

भारत की जीत के बाद टीम के सदस्यों ने नेहरा को कंधे पर उठाकर मैदान का चक्कर भी लगाया. जब न्यूजीलैंड की पारी की शुरूआत हुई तो सभी की निगाहें नेहरा पर टिकी थी जो अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेल रहे थे. उन्होंने गेंदबाजी का आगाज किया और दर्शकों ने पूरे जोशो खरोश के साथ उनकी हौसलाअफजाई की. पिच से स्पिनरों को टर्न मिल रहा है और इसलिए कोहली ने नेहरा के साथ युजवेंद्र चहल को गेंद सौंपी जिनकी गेंद पर पांड्या ने मार्टिन गप्टिल (चार) का बेहतरीन कैच लपका.

इस बीच भुवनेश्वर कुमार ने यॉर्कर पर मुनरो (सात) की गिल्लियां बिखेरी जबकि पांड्या ने अपनी पहली गेंद पर विलियमसन को महेंद्र सिंह धोनी के हाथों कैच कराया. पहले दस ओवर के बाद स्कोर तीन विकेट पर 65 रन था और रन रेट लगभग 14 रन प्रति ओवर पहुंच गया था. टॉम ब्रूस (दस) और कोलिन डि ग्रैंडहोम ने इसी दबाव में अक्षर पटेल के एक ओवर में दो गेंद हवा में लहराकर पवेलियन की राह पकड़ी.

धोनी ने चहल की गेंद पर लाथम को स्टंप आउट करके भारत की बड़ी जीत सुनिश्चित की. इससे पहले धवन और रोहित ने भारत को जबर्दस्त शुरूआत दिलायी हालांकि भाग्य ने उनका पूरा साथ दिया. धवन जब आठ रन पर थे तब ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर मिशेल सैंटनर ने उनका आसान कैच टपकाया. इसके बाद रोहित को 17 रन के निजी योग जीवनदान मिला. तब दूसरे बदलाव के रूप में आये कोलिन डि ग्रैंडहोम की गेंद पर साउथी हाथ में आया कैच नहीं ले पाए थे.

इस बीच धवन ने अपने कट और ड्राइव से कुछ अच्छे शॉट लगाए जबकि रोहित ने खाली स्थानों से गेंद बाहर निकाली. ऐसे ही एक अवसर पर उन्होंने अपर कट से साउदी की गेंद छह रन के लिए भेजी और फिर कोलिन मुनरो के सिर के ऊपर से छक्का लगाया. इससे वह टी20 मैचों में सर्वाधिक छक्के लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज भी बने. रोहित ने सुरेश रैना (265 छक्के) का रिकार्ड तोड़ा.

धवन ने 37 गेंदों पर टी20 में अपना तीसरा अर्धशतक पूरा किया. रोहित ने भी छक्के से अपना 12वां अर्धशतक पूरा किया और फिर सैंटनर की अगली दो गेंदों पर चौके जड़कर भारत की तरफ से सर्वश्रेष्ठ साझेदारी का पिछला रिकार्ड तोड़ा.

पहले यह रिकार्ड रोहित और विराट कोहली के नाम पर था जिन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2015 में धर्मशाला में दूसरे विकेट के लि138 रन जोड़े थे.यह साझेदारी आखिर में सोढ़ी ने तोड़ी जिनकी गुगली पर धवन चूक गये और स्टंप आउट होकर पवेलियन लौटे. पांड्या को तीसरे नंबर पर उतारा गया लेकिन वह भी अगली गेंद पर विकेट के पीछे कैच दे बैठे.लेकिन कोटला तो अपने प्रिय कोहली को देखने के लिये बेताब था और भारतीय कप्तान ने भी ग्रैंडहोम, बोल्ट और साउथी पर छक्के जड़कर उन्हें निराश नहीं किया.

यह अलग बात है कि जब वह आठ रन पर थे तब कीवियों ने उन्हें भी जीवनदान दिया था. रोहित आखिरी ओवर में नाटकीय तरीके से आउट हुए क्योंकि न्यूजीलैंड के रेफरल पर टीवी अंपायर अनिल चौधरी ने उन्हें पहले नाटआउट दिया लेकिन बाद में उन्होंने अपनी गलती में सुधार कर दिया।

कोहली के आने के बाद भारत ने केवल 20 गेंदों पर 44 जुटाए. महेंद्र सिंह धोनी सात रन बनाकर नाबाद रहे. भारतीय टीम ने पहली बार न्यूजीलैंड के खिलाफ 200 से अधिक का स्कोर बनाया. कीवी टीम की तरफ से लेग स्पिनर ईश सोढी सबसे सफल गेंदबाज रहे, उन्होंने 25 रन देकर दो विकेट लिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi