S M L

क्या टेस्ट सीरीज से पहले विराट की टीम के पत्ते देख लिए हैं इंग्लैंड ने!

वनडे सीरीज में ही इंग्लैंड ने टेस्ट सीरीज के लिए टीम इंडिया की काट तैयार कर ली है!

Updated On: Jul 19, 2018 12:15 PM IST

Jasvinder Sidhu Jasvinder Sidhu

0
क्या टेस्ट सीरीज से पहले विराट की टीम के पत्ते देख लिए हैं इंग्लैंड ने!

आखिरी वनडे में जो रूट और ऑइन मॉर्गन का स्पिनर कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल को बैकफुट पर जाकर खेलना और अपनी शर्तों पर लगातार सिंगल लेते रहने का सिलसिला टेस्ट सीरीज शुरू होने से ठीक पहले भारतीय टीम के लिए चेतावनी है.

joe root

 

असल में इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने भारतीय स्पिनरों को वनडे में टेस्ट मैच की तरह खेला है. ऐसे में कुलदीप यादव को टेस्ट सीरीज में अगर प्लेइंग इलेवन में जगह मिलती है तो यह उनके लिए बतौर लीड बॉलर एक बड़ी परीक्षा होने वाली है.

उन पर नजर इसलिए भी रहेगी क्योंकि एशिया से बाहर आर अश्विन का ज्यादा प्रभाव अभी तक दिखा नहीं है. और फिर भारतीय तेज गेंदबाजी कैसी बॉलिंग कर रहे हैं, सबने देख ही लिया है.

क्या बरकरार रहेगा कुलदीप का जादू!

तीनों वनडे मैचों का आकलन करने के बाद यह तो दिखता है कि कुलदीप यादव ने दसवें ओवर के बाद कप्तान से गेंद मिलने के बाद पहले स्पैल में विकेट जरूर दिलाए हैं. लेकिन ऐसा भी नहीं है कि इंग्लैंड के बल्लेबाज कुलदीप यादव को समझने में नाकाम रहे हैं.

Durban: India's Kuldeep Yadav, centre, and teammates celebrate the wicket of South Africa's JP Duminy during the ODI between South Africa and India at the Kingsmead Stadium Durban, South Africa, Thursday, Feb. 1 2018. AP/PTI(AP2_1_2018_000184B)

तीसरा वनडे आते-आते इस चाइनामैन का काउंटर बेहद पेशेवर तरीके से हुआ है और टेस्ट सीरीज में इसका लाभ इंग्लैंड टीम को मिलना चाहिए. तीन वनडे में कुलदीप ने अपने तीस ओवर का पूरा कोटा खत्म किया है और दोनों टीमों में सबसे ज्यादा 9 विकेट लिए हैं और उनका इकॉनामी रेट प्रति ओवर पांच का रहा है.

यह औसत बुरा नहीं है लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाज उन्हें उस समय संभाल गए जब मैच अहम दौर से गुजर रहा था. उस समय यादव को मिला विकेट टीम की जीत तय करने में मदद करता. हालांकि ऐसा हुआ नहीं. उनके आखिरी स्पैल वनडे के लिहाज से किफायती नहीं रहे.

दूसरी तरफ चहल हैं जिन्हें कप्तान विराट कोहली का ब्रह्मास्त्र बताया जा रहा है लेकिन इस सीरीज के तीन मैचों में उनके नाम दो ही विकेट हैं और इंग्लैंड के बल्लेबाज उनके खिलाफ 135 रन बना चुके हैं. इंग्लैंड के लिए टेस्ट सीरीज से पहले भारत के टॉप स्पिनरों के खिलाफ इससे अच्छी तैयारी हो ही नही सकती थी.

इंग्लिश फिरकी कर सकती है परेशान

मसला सिर्फ भारत के स्पिन गेंदबाजों का ही नहीं है. भारत के इन-फॉर्म बल्लेबाजों के लिए इंग्लैंड के आदिल राशिद का सामना करना हैरानी का सबब बन रहा है. तीसरे वनडे राशिद की गेंद पर बोल्ड होने के बाद विराट कोहली का भौंचक्का चेहरा पूरा दिन सोशल मीडिया में छाया रहा. राशिद ने अपना स्पैल 10-0-49-3 के साथ खत्म किया. छह विकेट के साथ वह लिस्ट में कुलदीप के बाद दूसरे नंबर हैं.

kohli

 

यह भी रोचक है कि इंग्लैंड के हर दौरे पर तेज पिचों और स्विंग गेंदबाजी के सामने भारतीय बल्लेबाजों की परेशानियों पर चर्चा होती थी. सीरीज का प्रसारण करने वाली कंपनी ने अपने प्रोमो में सवाल भी किया है कि क्या भारतीय टीम सौरव गांगुली की तरह इंग्लैंड में अपनी शर्ट उतारेगी या फिर उसकी पेंट उतरने वाली है. लेकिन जिस तरह से इंग्लैंड ने भारतीय स्पिनरों को संभाला है और जिस दिक्कत में भारतीय बल्लेबाज आदिल राशिद और मोईन अली से सामने असहज दिखे,  इससे सीरीज में रोचकता बढ़ गई हैं.

तेज गेंदबाजी का तड़का तो इंग्लैंड में हमेशा रहा है लेकिन इंग्लैंड की स्लो हो रही पिचों पर दो अलग तरह की गेंदबाजी ने इसे और मसालेदार बनाने का काम किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi