S M L

India vs England, 1st Test, Day 1 : अश्विन ने आखिरी सेशन में कराई टीम इंडिया की वापसी

अश्विन ने पहले दिन झटके चार विकेट, इंग्लैंड नौ विकेट पर 285 रन बनाने में सफल रहा

FP Staff Updated On: Aug 01, 2018 11:42 PM IST

0
India vs England, 1st Test, Day 1 : अश्विन ने आखिरी सेशन में कराई टीम इंडिया की वापसी

रविचंद्रन अश्विन ने भारत को तीसरे सत्र में तीन सफलता दिलाईं, लेकिन कप्तान जो रूट (80) और जॉनी बेयरस्टो (70) के जुझारू अर्धशतक की बदौलत इंग्लैंड पहले टेस्ट के पहले दिन नौ विकेट पर 285 रन बनाने में सफल रहा. इंग्लैंड ने तीसरे सत्र में छह विकेट गंवाए. भारत का पलड़ा भारी रखने में मोहम्मद शमी की उम्दा गेंदबाजी का भी अहम योगदान रहा. इंग्लैंड की टीम एक समय तीन विकेट पर 216 रन बनाकर बहुत अच्छी स्थिति में थी, लेकिन अश्विन (60 रन पर चार विकेट) ने इसके बाद नियमित अंतराल पर भारत को सफलताएं दिलाईं. शमी ने 64 रन देकर दो विकेट चटकाए, जबकि उमेश यादव और इशांत शर्मा ने एक-एक विकेट हासिल किया.

इंग्लैंड की टीम एक समय कप्तान जो रूट और जानी बेयरस्टा के अर्धशतकों और दोनों के बीच चौथे विकेट की 104 रन की साझेदारी की से मजबूत स्थिति में थी, लेकिन भारत अपने गेंदबाजों की बदौलत जोरदार वापसी करने में सफल रहा. रूट ने सलामी बल्लेबाज कीटोन जेनिंग्स (42) के साथ भी दूसरे विकेट के लिए 72 रन की साझेदारी की. दिन का खेल खत्म होने पर सैम कुरेन 24 रन बनाकर खेल रहे थे, जबकि जेम्स एंडरसन ने अभी खाता नहीं खोला है.

अश्विन ने झटका पहला विकेट

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद सुबह के सत्र में उसे एकमात्र झटका रविचंद्रन अश्विन (33 रन पर एक विकेट) ने पारी के नौवें ओवर में एलिस्टेयर कुक (13) को बोल्ड करके दिया. मिडिल स्टंप पर पिच होने के बाद बाहर की ओर मूव होती गेंद ने कुक का ऑफ स्टंप उखाड़ा. भारत के लिए नई गेंद से आक्रमण की शुरुआत उमेश यादव और इशांत शर्मा ने की. इशांत अच्छी लय में दिखे.

रहाणे ने दिया जेनिंग्स को जीवनदान

बाएं हाथ के बल्लेबाजों कुक और जेनिंग्स को इशांत की बाहर की ओर मूव होती गेंदों के खिलाफ परेशानी का सामना करना पड़ा. जेनिंग्स जब नौ रन बनाकर खेल रहे थे तब इशांत की गेंद ने उनके बल्ले का किनारा लिया लेकिन स्लिप में उप कप्तान अजिंक्य रहाणे कैच लपकने में नाकाम रहे. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने सबको हैरान करते हुए सातवें ओवर में ही अश्विन को गेंदबाजी आक्रमण में लगा दिया. अश्विन ने कप्तान को निराश नहीं करते हुए अपने दूसरे ओवर में ही भारत को सफलता दिला दी. इस ऑफ स्पिनर ने टेस्ट क्रिकेट में आठवीं बार कुक को आउट किया. रूट शुरुआत से ही अच्छी लय में दिखे. उन्होंने कुछ अच्छी बाउंड्री लगाईं और लय इंग्लैंड के पक्ष में की. शमी दूसरे बदलाव के तौर पर गेंदबाजी के लिए आए. उन्होंने सटीक गेंदबाजी की लेकिन शुरू में उनकी गेंदबाजी में धार नदारद दिखी. इंग्लैंड के 50 रन 16वें ओवर में पूरे हुए.

शमी ने जेनिंग्स को पवेलियन भेजा

भारत ने दूसरे सत्र में प्रभावी शुरुआत की लेकिन जेनिंग्स और रूट ने सात ओवर तक मेहमान टीम के गेंदबाजों को सफलता से महरूम रखा. कोहली ने 36वें ओवर में गेंद शमी को थमाई. वह ओवर की शुरुआत करते इससे पहले की एक कबूतर पिच से समीप आ गया जिसे जेनिंग्स ने पिच से दूर किया, लेकिन वह उड़ा नहीं. जेनिंग्स और रूट इसके बाद दोबारा कबूतर को उड़ाने गए लेकिन वह मैदान पर बैठा रहा. इस घटना ने संभवत: जेनिंग्स की एकाग्रता तोड़ी और वह शमी की अंदर आती अगली गेंद को विकेटों पर खेल गए. उन्होंने 98 गेंद का सामना करते हुए चार चौके लगाए.

डेविड मलान को नहीं बचा सका डीआरएस

अश्विन ने नए बल्लेबाज मलान के खिलाफ एलबीडब्ल्यू की विश्वसनीय अपील की जिसे अंपायर ने ठुकरा दिया. भारत ने रिव्यू लिया लेकिन तीसरे अंपायर ने भी फैसला बल्लेबाज के पक्ष में सुनाया जिससे मेहमान टीम ने रिव्यू गंवा दिया. शमी ने इसके बाद तेजी से अंदर आती गेंद पर डेविड मलान (08) को एलबीडब्ल्यू करके इंग्लैंड का स्कोर तीन विकेट पर 112 रन किया. मलान ने डीआरएस का सहारा लिया लेकिन फैसला भारत के पक्ष में गया.

रूट का भारत के खिलाफ 12वां अर्धशतक

कप्तान रूट इस बीच अश्विन की गेंद पर 39 रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब गेंद ने उनके बल्ले का बाहरी किनारा लिया, लेकिन पहली स्लिप में खड़े रहाणे इसे लपकने में नाकाम रहे और गेंद चार रन के लिए चली गई. इस चौके के साथ 70वां टेस्ट खेल रहे रूट छह हजार रन पूरे करने वाले इंग्लैंड के 15वें बल्लेबाज बने. रूट ने इशांत की गेंद पर एक रन के साथ 107 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. यह भारत के खिलाफ 12 टेस्ट में रूट का 12वां अर्धशतक है. रूट को इसके बाद बेयरस्टो के रूप में उम्दा जोड़ीदार मिला. बेयरस्टो ने अश्विन पर चौके के साथ 49वें ओवर में टीम का स्कोर 150 रन के पार पहुंचाया.

कोहली के थ्रो पर रूट रन आउट

चाय के विश्राम के बाद बेयरस्टो ने स्वच्छंद होकर बल्लेबाजी की. बटलर ने शमी पर चौका जड़ा जबकि रूट ने पांड्या पर लगातार दो चौके लगाए. बेयरस्टो पांड्या और शमी के लगातार ओवरों के भाग्यशाली रही. पांड्या के ओवर में कवर ड्राइव खेलने की कोशिश में वह गेंद को हवा में खेल गए लेकिन यह कप्तान कोहली के हाथों तक नहीं पहुंची. अगले ओवर में शमी की गेंद ने बेयरस्टो के बल्ले का बाहरी किनारा लिया, लेकिन यह स्लिप के ऊपर से चार रन के लिए चली गई. बेयरस्टो ने पांड्या पर लगातार दो चौकों के साथ 72 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. बेयरस्टो ने अश्विन पर चौके से रूट के साथ शतकीय साझेदारी पूरी की, लेकिन इसी ओवर में दो रन लेने की कोशिश में रूट कोहली के सटीक निशाने का शिकार बनकर पवेलियन लौट गए. उन्होंने 156 गेंद की पारी में नौ चौके लगाए.  बेयरस्टो भी इसके बाद उमेश की उछाल लेती गेंद को विकेटों पर खेल गए. उन्होंने 88 गेंद का सामना करते हुए नौ चौके जड़े.

अश्विन ने लगाई विकेटों की झड़ी

अश्विन ने इसके बाद बेहतरीन फॉर्म में चल रहे जोस बटलर (00) को एलबीडब्ल्यू किया जिससे टीम का स्कोर तीन विकेट पर 216 रन से छह विकेट पर 224 रन हो गया. बेन स्टोक्स भी 41 गेंद में 21 रन बनाकर अश्विन को उन्हीं की गेंद पर कैच दे बैठे. कुरेन और आदिल रशीद (13) ने इसके बाद कुछ उपयोगी रन बटोरे. दोनों ने टीम का स्कोर 250 रन के पार पहुंचाया. कुरेन ने पांड्या पर दो चौके लगाए, जबकि रशीद ने अश्विन पर लगातार दो चौके जड़े. इशांत ने रशीद को एलबीडब्ल्यू करके कुरेन के साथ उनकी 35 रन की साझेदारी का अंत किया. अंपायर ने रशीद को नॉटआउट करार दिया था, लेकिन डीआरएस लेने पर फैसला भारत के पक्ष में गया. अश्विन ने इसके बाद स्टुअर्ट ब्रॉड (01) को एलबीडब्ल्यू किया. दिन के अंतिम ओवर में विकेटकीपर दिनेश कार्तिक ने शमी की गेंद पर कुरेन का कैच टपकाया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi