S M L

IND vs ENG, 1st Test: भारत की ये गलतियां पड़ीं कोहली के शतक पर भारी, हार से चुकानी पड़ी कीमत

भारतीय टीम की ओर से गेंदबाजों और विराट कोहली का प्रदर्शन शानदार रहा , लेकिन कुछ गलतियां टीम को बहुत भारी पड़ गईं

Updated On: Aug 04, 2018 09:29 PM IST

FP Staff

0
IND vs ENG, 1st Test: भारत की ये गलतियां पड़ीं कोहली के शतक पर भारी, हार से चुकानी पड़ी कीमत

जिस बात का डर था वही हुआ. एजबेस्टन टेस्ट में भारतीय टीम सिर्फ 194 रनों के लक्ष्य का पीछा करने में नाकाम रही. इंग्लैंड ने भारत को 31 रनों से मात दी. पहली पारी में शतक लगाने वाले विराट कोहली ने दूसरी पारी में 51 रन बनाए, लेकिन बाकी भारतीय बल्लेबाज कुछ खास योगदान नहीं दे सके. भारतीय बल्लेबाज इंग्लैंड के हालात और पिच से तेज गेंदबाजों को मिल रही मदद के सामने अपने पैर जमा नहीं पाए. पूरी टीम 54.2 ओवरों में 162 रनों पर ढेर हो गई.

आखिर क्यों जीत के करीब पहुंच कर भी भारत को करना पड़ा पराजय का सामना

भारतीय खिलाड़ियों से कैच छूटे

भारतीय खिलाड़ियों ने खराब फील्डिंग का प्रदर्शन किया जिसकी वजह से इंग्लैंड अपनी बल्लेबाजी के समय रन जुटाने में सफल रहा. स्लिप फील्डिरों ने उस अहम मौके पर कैच टपकाए जो भारत को भारी पड़े. विकेट के पीछे भी कम से कम चार अवसर ऐसे आए जब उन्हें कैच में तब्दील किया सकता था. अजिंक्य रहाणे ने कीटन जेनिंग्स को इशांत शर्मा की गेंद पर ड्रॉप किया. इसी तरह दिनेश कार्तिक ने सैम करन को, शमी ने करन को, शिखर धवन ने आदिल रशीद और सैम करन को जीवनदान दिया.

सलामी बल्लेबाजों का फ्लाप शो

किसी भी मैच में अच्छी शुरुआत के लिए टॉप ऑर्डर के बल्लेबाजों का प्रदर्शन अहम होता है. शिखर धवन और मुरली धवन टीम को दूसरी पारी में अच्छी शुरुआत देने में सफलल रहे, जिससे बाकी बल्लेबाजों को वो मंच नहीं मिल सका, जिससे बड़ी पारी खड़ी की जा सके. धवन केवल 39 रन ही बना सके जबकि विजय ने दो पारियों में 26 रन बना सके.

केएल राहुल ने भी किया निराश

केएल राहुल को चेतेश्वर पुजारा की जगह टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में जगह दी गई थी. लेकिन केएल राहुल का प्रदर्शन बेहद दयनीय रहा. वह दो पारियों में केवल 17 रन बना सके. चेतेश्वर पुजारा को ना खिलाने को लेकर लोग पहले ही आलोचना कर रहे थे. भारत की हार के बाद तो इस गलती को बख्शा नहीं जाएगा.

मध्य क्रम का ढहना

कप्तान विराट कोहली को छोड़ दिया जाए तो अन्य किसी बल्लेबाज ने क्रीज पर टिकने की क्षमता नहीं दिखाई. मध्य क्रम ने अपने विकेट सस्ते में दे दिए. अजिंक्य रहाणे, दिनेश कार्तिक और हार्दिक पांड्या उस समय बल्ले से प्रभावी खेल दिखाने में असफल रहे जब टीम को उनके सहयोग की सबसे ज्यादा जरूरत थी. अजिंक्य रहाणे ने 20, दिनेश कार्तिक ने 17 रन बनाए. हार्दिक पांड्या ने दो पारियों में 53 रन बनाए. ऑलराउंडर की हैसियत के खेल रहे हार्दिक पांड्या कोई विकेट नहीं ले सके.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi