S M L

India vs Australia: 'स्मिथ-वॉर्नर की वापसी भी ऑस्ट्रेलिया के मर्ज का इलाज नहीं है'

बॉल टेंपरिंग के चलते 12-12 महीने की पाबंदी झेल रहे हैं स्मिथ और डेविड वॉर्नर

Updated On: Jan 08, 2019 12:26 PM IST

FP Staff

0
India vs Australia: 'स्मिथ-वॉर्नर की वापसी भी ऑस्ट्रेलिया के मर्ज का इलाज नहीं है'

भारत के खिलाफ 71 सालों के इतिहास में पहली बार टेस्ट सीरीज गंवाने के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम आलोचनाओं के घेरे में है. कहा जा रहा है कि बॉल टेंपरिंग के चलते टीम से बाहर रहे स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर की गैरहाजिरी इस सीरीज में ऑस्ट्रेलया की हार की बड़ी वजह है. लेकिन इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया की समस्या इससे भी कहीं ज्यादा गहरी है और अगर वक्त रहते इसका इलाज नहीं किया गया तो कंगारू टीम बडी मुश्किल में फंस सकती है.

उनका कहना है, ‘ अगर ऑस्ट्रेलिया को लगता है कि अगर स्मिथ-वॉर्नर की वापसी से उसकी परेशानी खत्म हो जाएगी तो वे खुद के साथ मजाक कर रहे हैं. अगर वे अपने ख्ल का आंकलन गहरे तरीके से नहीं करेगे तो मुझे नहीं लगता कि वे इस बार एशेज में इंग्लैंड को मात दे पाएंगे.’

लंदन के टेलीग्राफ समाचार पत्र में लिखे कॉलम में उन्होंने कहा है कि ऑस्ट्रेलिया को अपने बल्लेबाजों की बैटिंग टेक्निक और गेंदबाजों की निरंतरता पर ज्यादा मेहनत करने की जरूरत है.

वॉर्नर-स्मिथ पर लगे बैन के बाद ऑस्ट्रेलिया ने 14 टेस्ट परियों में स महज तीन में ही 300 रन का आंकड़ा पार किया है और सर्वाधिक स्कोर आठ वकेट पर 362 रन रहा है. वॉन का मानना है कि कंगारू टीम मुकाबलों में बने रहने के लिए प्रयाप्त स्कोर खड़ा करने में लगातार नाकाम हो रही है. उनका कहना है कि ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज लंबी पारियां खेलने में लगातार नाकाम हो रहे हैं और यही इस टीम की सबसे बड़ी कमजोरी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi