S M L

Ind vs Aus: स्पिनर को टीम में शामिल ना करने पर कप्तान कोहली ने दी सफाई

मेहमान टीम को तेज गेंदबाजों की अनुकूल पिच पर एक बार फिर ऑफ स्पिनर नाथन लायन ने परेशान किया

Updated On: Dec 18, 2018 12:26 PM IST

FP Staff

0
Ind vs Aus: स्पिनर को टीम में शामिल ना करने पर कप्तान कोहली ने दी सफाई

पर्थ टेस्ट में हार के लिए जिस चीज पर सबसे ज्यादा चर्चा की जा रही है वह है भारत की प्लेइंग इलेवन. भारत पर्थ टेस्ट में चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा. भारत के पास रवींद्र जड़ेजा का विकल्प था लेकिन उनकी जगह उमेश को जगह दी गई. हालंकि कोहली ने मैच के बाद अपने इस फैसले का बचाव किया.

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट में कभी स्पिनर को टीम में रखने के बारे में नहीं सोचा क्योंकि उनका मानना था कि भारत के चार तेज गेंदबाज काम कर जाएंगे. मेहमान टीम को तेज गेंदबाजों की अनुकूल पिच पर एक बार फिर ऑफ स्पिनर नेथन लायन ने परेशान किया जिन्हें लगातार दूसरे मैच में आठ विकेट चटकाने के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया.

भारत के पांचवें और अंतिम दिन दूसरी पारी में 140 रन पर सिमटने के बाद कोहली ने कहा, ‘जब हमने पिच को देखा तो हमने (रवींद्र) जेडजा के विकल्प के बारे में नहीं सोचा. हमने सोचा कि चार तेज गेंदबाज काफी होंगे.’उन्होंने कहा, ‘नेथन लायन ने काफी अच्छी गेंदबाजी की. ईमानदारी से कहूं तो हमने कभी स्पिन विकल्प के बारे में नहीं सोचा.’

Rajkot: Indian bowler Ravindra Jadeja (C) celebrates the wicket of West Indies batsman Sunil Ambris as team captain Virat Kohli (L) looks on, during their first test cricket match, in Rajkot, Friday, October 05, 2018. (PTI Photo/Shashank Parade) (PTI10_5_2018_000107B)

कोहली से जब पहली पारी के उनके 123 रन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘जब आप जीत दर्ज नहीं करते तो आप प्रदर्शन के बारे में नहीं सोचते इसलिए यह बेमानी है क्योंकि हमें वह नतीजा नहीं मिला जो हम चाहते थे.’

उन्होंने कहा, ‘मेरा ध्यान अगले मैच पर है और उम्मीद करता हूं कि मैं जीत में योगदान दे पाऊंगा.’

भारतीय कप्तान ने |स्ट्रेलिया की तारीफ करते हुए कहा कि मेजबान टीम ने कड़ी गेंदबाजी की जबकि बल्लेबाजी में भी मेहमान टीम को पछाड़ दिया.

उन्होंने कहा, ‘एक टीम के रूप में मुझे लगता है कि हम टुकड़ों में अच्छा खेले. ऑस्ट्रेलिया ने बल्ले से हमारी तुलना में कहीं बेहतर प्रदर्शन किया. हमें लगता है कि इस पिच पर 330 रन काफी अधिक थे. वे जीत के हकदार थे.' कोहली ने कहा, ‘हमारा मानना था कि हम लक्ष्य हासिल कर सकते हैं लेकिन उन्होंने मौका नहीं दिया और हमें परेशानी में डाला.’

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi