S M L

Ind vs Aus, Perth Test: भारत की ये गलतियां पड़ गई भारी, दूसरे टेस्ट में मिली बड़ी हार

ऑस्ट्रेलिया ने पर्थ टेस्ट में जीत के साथ सीरीज को 1-1 से बराबर कर लिया है

Updated On: Dec 18, 2018 11:59 AM IST

FP Staff

0
Ind vs Aus, Perth Test: भारत की ये गलतियां पड़ गई भारी, दूसरे टेस्ट में मिली बड़ी हार

भारतीय टीम को पर्थ टेस्ट में 147 रनों की करारी हार मिली. ऑस्ट्रेलिया ने इस जीत के साथ ही सीरीज को 1-1 से बराबर कर लिया है. भारत की हार के पीछे कई कारण रहे. बल्लेबाजों ने जहां निराश किया वहीं चार तेज गेंजबाजों के साथ उतरी टीम को  स्पिनर की कमी भी खली.

1) पहली पारी में नहीं चले गेंदबाज

पर्थ की पिच पर जब लग रहा था कि बल्लेबाजों को काफी परेशानी होने वाली है उस समय में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 326 रन बना डाले. पहले विकेट के लिए ऑस्ट्रेलियाई ओपनर ने 112 रनों की साझेदारी की. वहीं इसके जवाब में भारत की पहली पारी 283 रनों पर ही सिमट गई जिसकी मदद से ऑस्ट्रेलिया को अच्छी बढ़त मिली.

2) विराट कोहली का फैसला

पहली पारी में विराट कोहली का विवादित तारीके से आउट होने भारतीय टीम को काफी भारी पड़ा. 123 रन बनाकर खेल रहे विराट फॉर्म में थे और अगर वह टिके रहते तो शायद नतीजा कुछ और हो सकता था. विराट कोहली पैंट कमिंस के हाथों कैच आउट हुए थे जिसपर उन्होंने रिव्यू लिया था. इसके बाद उन्हें आउट करार दिया गया था.

Virat Kohli anchors India's response with unbeaten 82 in gripping battle with Australian bowlers on day two.

3) ओपनर्स का प्रदर्शन

इस हार का एक कारण भारत की ओपनिंग बल्लेबाजी भी रही. के एल राहुल और मुरली विजय दोनों ही पारियों में भारत को एक अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे. पहली पारी में भारत ने छह रन पर ही अपना पहला विकेट खो दिया वहीं दूसरी पारी में भारत ने पहला विकेट खाता खुलने से पहले ही खो दिया. दोनों ओपनर बतौर बल्लेबाज भी फेल होते दिखाई दिए. जहां के एल राहुल ने पहली पारी में केवल दो रन बनाए वहीं दूसरी पारी में वह खाता भी नहीं खोल पाए. वहीं मुरली विजय पहली पारी में डक हुए वहीं दूसरी पार में वह केवल 20 ही रन बना पाए.

यह भी पढ़ें-Ind vs Aus: पूरी तरह फ्लॉप रहे भारतीय ओपनर, ट्विटर पर लोगों ने लगाई क्लास

4) स्पिनर की कमी

भारतीय टीम इस मैच में चैर तेज गेंदबाजों के साथ उतरी थी. टीम में हनुमा विहारी थे जो वक्त पड़ने पार्ट टाइम स्पिनर के तौर पर नजर आए लेकिन टीम ने एक स्पिनर की कमी महसूस की. ऑस्ट्रेलिया के नेथन लायन को पिच से काफी मदद मिली और उन्होंने आठ विकेट हासिल की. कोहली के पास रवींद्र जडेजा और कुलदीप के रूप में दो विकल्प थे लेकिन उन्होंने उमेश यादव पर विश्वास दिखाया, इस मैच में उमेश यादव ने भारत की तरफ से सबसे खराब गेंदबाजी की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi