S M L

चेतेश्वर पुजारा के मैराथॉन शतक ने एक बार फिर उन्हें साबित किया टीम इंडिया की 'दीवार'

319 गेदों में 10 चौकों की मदद से पुजारा के बल्ले से निकला यह मैराथॉन शतक कई रिकॉर्ड अपने नाम कर गया

Updated On: Dec 27, 2018 10:37 AM IST

FP Staff

0
चेतेश्वर पुजारा के मैराथॉन शतक ने एक बार फिर उन्हें साबित किया टीम इंडिया की 'दीवार'

भारत की नई दिवार बन चुके चेतेश्वर पुजारा ने एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ संयम और सधा शतक लगाया. चेतेश्‍वर पुजारा ने 280 गेंदों अपना शतक पूरा किया है. यह उनका सबसे धीमा शतक है. इससे पहले उन्होंने 2012 में मुंबई में इंग्लैंड के खिलाफ 248 गेंदों में शतक लगाया था. 319 गेदों में 10 चौकों की मदद से पुजारा के बल्ले से निकला यह मैराथान शतक कई रिकॉर्ड अपने नाम कर गया.

विदेशी धरती पर पुजारा का यह सातवां शतक है. उन्‍होंने कोलंबो में दो शतक लगाने के अलावा जोहांसबर्ग, गॉल, साउथेंप्‍टन,ऐडिलेड और मेलबर्न में एक-एक शतक ठोका है. इस शतक के साथ ही पुजारा के टेस्‍ट शतकों की संख्‍या 17 हो गई है. इसके साथ ही उन्‍होंने सौरव गांगुली (16), वीवीएस लक्ष्‍मण (17) और दिलीप वेंगसरकर (17) को पछाड़ दिया है. अब उनसे आगे मोहम्‍मद अजहरुद्दीन (22), वीरेंद्र सहवाग (23), विराट कोहली (25),सुनील गावस्‍कर (34), राहुल द्रविड़ (36) और सचिन तेंदुलकर (51) हैं. चेतेश्‍वर पुजारा ने इस शतकीय पारी के दौरान विदेशी धरती पर 2000 प्‍लस रन पूरे किए. उन्‍होंने ऐसा 31 मैचों की 54 पारियों में किया है.

Rajkot: Indian batsman Cheteshwar Pujara plays a shot during the first test cricket match played between India and West Indies, in Rajkot, Thursday, October 04, 2018. (PTI Photo/Shashank Parade)(PTI10_4_2018_000027B)

पुजारा ने पहली बार शतक के लिए 250 से ज्‍यादा गेंदें खेली हैं. इससे पहले विराट ने नागपुर में 2012 में 289 गेंदों में शतक लगाया था, जो कि पिछले 15 साल में भारत के लिए टेस्‍ट क्रिकेट में सबसे स्‍लो पारी है.टीम इंडिया की दीवार माने जाने वाले पुजारा ने ऑस्‍ट्रेलिया में तीसरी बार 200 से ज्‍यादा गेंदों का सामना किया है. ऑस्‍ट्रेलिया में सुनील गावस्‍कर ने सबसे अधिक पांच बार 200 से ज्‍याद गेंदें खेली हैं. जबकि सचिन और विराट ने ऐसा चार-चार बार कियाचेतेश्‍वर पुजारा ने 280 गेंदों पर शतक पूरा किया, जो कि उनके टेस्‍ट करियर का सबसे धीमा शतक है

कोहली के नाम अहम रिकॉर्ड

कप्तान विराट कोहली भारत की तरफ से विदेशी सरजमीं पर एक कैलेंडर वर्ष में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं. कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच के दूसरे दिन गुरुवार को यहां अपनी 82 रन की पारी के दौरान यह रिकॉर्ड अपने नाम किया. कोहली के नाम पर वर्ष 2018 में विदेशी धरती पर 1138 रन दर्ज हो गए हैं और उन्होंने राहुल द्रविड़ के 2002 में बनाये गए 1137 रन के रिकॉर्ड को तोड़ा.

द्रविड़ का रिकार्ड अपने नाम करने के तुरंत बाद ही कोहली ने मिचेल स्टार्क की गेंद पर थर्ड मैन पर कैच थमा दिया. भारतीय कप्तान अगर दूसरी पारी में 74 रन बनाने में सफल रहते हैं तो एक कैलेंडर वर्ष में विदेशी पिचों पर सर्वाधिक रन का विश्व रिकॉर्ड भी उनके नाम पर हो जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi