S M L

Ind vs Aus: पर्थ के बाद मेलबर्न की पिच पर भी आईसीसी का वार, मिली 'औसत' रेटिंग

एमसीजी की पिच तब चर्चा में आई जब भारत ने लगभग दो दिन तक बल्लेबाजी करते हुए 443 रन बनाए

Updated On: Jan 01, 2019 11:37 AM IST

Bhasha

0
Ind vs Aus: पर्थ के बाद मेलबर्न की पिच पर भी आईसीसी का वार, मिली 'औसत' रेटिंग

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एमसीजी पर खेले गए तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच की पिच को भी पर्थ स्टेडियम की तरह ‘औसत’ करार दिया.

‘सिडनी मार्निंग हेरल्ड’ की रिपोर्ट के अनुसार, ‘मेलबर्न क्रिकेट क्लब का बाक्सिंग डे टेस्ट मैच का मेजबान बने रहने की कवायद को बढ़ावा मिला है क्योंकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने भारत की 137 रन से जीत के बाद एमसीजी को औसत दर्जा ही दिया है.’ रिपोर्ट के अनुसार आईसीसी ने मंगलवार को औसत दर्जा दिए जाने की पुष्टि की. यह पिछले साल ड्रॉ छूटे एशेज टेस्ट मैच की तुलना में बेहतर दर्जा है क्योंकि तब एमसीजी की पिच को तीन ‘डिमेरिट प्वाइंट’ मिले थे. औसत दर्जा मिलने का मतलब है कि आईसीसी से इस मैदान को कोई ‘डिमेरिट पॉइंट’ नहीं मिला है. आईसीसी के नियम के अनुसार अगर किसी मैच स्थल को पांच साल के अंदर पांच ‘डिमेरिट प्वाइंट’ मिलते हैं तो उसका अंतरराष्ट्रीय दर्जा खत्म हो जाता है.

mcg

एमसीजी की पिच तब चर्चा में आई जब भारत ने लगभग दो दिन तक बल्लेबाजी करते हुए 443 रन बनाए. यहां तक कि उसके प्रमुख बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने धीमी बल्लेबाजी का कारण पिच की प्रकृति को बताया था. इसके बाद हालांकि जब भारत ने गेंदबाजी की तब लग रहा था कि विकेट जीवंत हो गया है. ऑस्ट्रेलिया के 20 में से 15 विकेट भारतीय तेज गेंदबाजों ने लिए. एमसीजी की वर्तमान पिच 15 साल पुरानी है लेकिन अगले सत्र में भी इसका उपयोग किया जाएगा. नयी पिच तैयार करने में तीन साल का समय लगेगा. इससे पहले पर्थ स्टेडियम की पिच को भी आईसीसी ने औसत दर्जा दिया था जिस पर आस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर सहित कई पूर्व क्रिकेटरों ने हैरानी जताई थी. ऑस्ट्रेलिया ने पर्थ में दूसरे टेस्ट मैच में जीत दर्ज करके सीरीज 1-1 से बराबर करायी थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi