S M L

भारत-साउथ अफ्रीका दूसरा टेस्ट, तीसरा दिन : कोहली और बुमराह के सामने डटे एबी डिविलियर्स

भारत ने पहली पारी में बनाए 307 रन, साउथ अफ्रीका ने दूसरी पारी में दो विकेट पर 90 रन जोड़े

Updated On: Jan 15, 2018 10:08 PM IST

FP Staff

0
भारत-साउथ अफ्रीका दूसरा टेस्ट, तीसरा दिन : कोहली और बुमराह के सामने डटे एबी डिविलियर्स

कुदरत के काम में आप कोई दखल नहीं डाल सकते. अगर बारिश और खराब रोशनी ने सेंचुरियन में साउथ अफ्रीका और भारत के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन करीब एक सेशन का खेल खराब नहीं किया होता तो कम से कम तस्वीर साफ हो जाती कि ये किस ओर झुक रहा है. फिलहाल जो स्थिति है  उसके मुताबिक विराट कोहली की जुझारू शतकीय पारी और जसप्रीत बुमराह के दो विकेट से पटरी पर लौटने वाले भारत की उम्मीदों के सामने एबी डिविलियर्स खड़े हो गए हैं. डिविलियर्स ने साउथ अफ्रीका की दूसरी पारी को शुरुआती झटकों से उबारा. एबी डिविलियर्स अभी 50 रन बनाकर क्रीज पर डटे हुए हैं. उनके साथ दूसरे छोर पर सलामी बल्लेबाज डीन एल्गर 36 रन पर खेल रहे हैं. इन दोनों ने अब तक तीसरे विकेट के लिए 87 रन जोड़े हैं.

बारिश और खराब रोशनी के कारण तीसरे सत्र का खेल प्रभावित रहा, जिसमें केवल दस ओवर का खेल हो पाया. खराब रोशनी के कारण जब दिन का खेल समाप्त घोषित किया गया तब साउथ अफ्रीका ने दो विकेट पर 90 रन बनाए थे और उसकी कुल बढ़त 118 रन की हो गई है. बुमराह ने अभी तक 30 रन देकर दो विकेट लिए हैं. इससे पहले भारत ने कप्तान विराट कोहली की 153 रन की लाजवाब पारी से साउथ अफ्रीका के 335 रन के जवाब में अपनी पहली पारी में 307 रन बनाए. इस तरह से दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में 28 रन की बढ़त हासिल की.

सुपरस्पोर्ट पार्क की पिच में अभी से गेंद नीची रह रही है और बुमराह ने ऐसे में नई गेंद से बेहतरीन स्पैल किया. उन्होंने एडेन मार्कराम (01) और हाशिम अमला (01) दोनों को तीन ओवर के अंदर एलबीडब्ल्यू आउट करके छठे ओवर तक स्कोर दो विकेट पर तीन रन कर दिया था. रविचंद्रन अश्विन ने गेंदबाजी की शुरुआत की जबकि इशांत शर्मा पहले बदलाव के रूप में आए. डिविलियर्स ने अपने सदाबहार अंदाज में बल्लेबाजी की और किसी भी भारतीय गेंदबाज को कोई मौका नहीं दिया. उन्होंने अब तक 78 गेंदों का सामना करके छह चौके लगाए हैं. एल्गर जब 29 रन पर थे तब बुमराह की गेंद पर विकेटकीपर पार्थिव पटेल के पास उनका कैच लेने का मौका था, लेकिन वह चूक गए. एल्गर की 78 गेंद की पारी में एक चौका और अश्विन पर लगाया गया एक छक्का शामिल है.

सेंचुरियन में टेस्ट शतक जड़ने वाले पहले विदेशी कप्तान बने विराट

इससे पहले भारतीय पारी कोहली के इर्द गिर्द ही घूमती रही, जिन्होंने 217 गेंदों का सामना करके 15 चौके लगाए. भारत ने सुबह कल के स्कोर पांच विकेट पर 183 रन से आगे खेलना शुरू किया. कोहली और हार्दिक पांड्या (15) ने छठे विकेट के लिए 45 रन की साझेदारी की. कोहली ने 146 गेंदों में 10 चौकों की मदद से अपना 21वां टेस्ट शतक पूरा किया. वह सेंचुरियन में टेस्ट शतक जड़ने वाले पहले विदेशी कप्तान बन गए. इससे पहले इस मैदान पर किसी कप्तान का सर्वोच्च स्कोर 90 रन था, जो 2010 में महेंद्र सिंह धोनी ने बनाया था. यही नहीं वह दक्षिण अफ्रीकी सरजमीं पर शतक जमाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान बन गए. उनसे पहले 1997 में सचिन तेंदुलकर ने केपटाउन में सैकड़ा बनाया था. यह साउथ अफ्रीका में कोहली का दूसरा टेस्ट शतक है. तेंदुलकर ने साउथ अफ्रीका में पांच टेस्ट शतक बनाए हैं.

विराट को दूसरे छोर से नहीं मिल सका सहयोग

कोहली को दूसरे छोर से सहयोग नहीं मिल पाया. पांड्या रन आउट का शिकार हो गए. अश्विन ने 54 गेंद में 38 रन बनाए और वह वर्नोन फिलेंडर का शिकार बने. कोहली और अश्विन ने 62 गेंद में 50 रन की साझेदारी की. अगले ओवर में मोर्नी मोर्केल ने मोहम्मद शमी को पहली स्लिप में लपकवाया. कोहली ने नए बल्लेबाज इशांत (03) का बचाव करने की पूरी कोशिश की. इस बीच लगभग नौ ओवर तक विकेट नहीं गिरा और 25 रन बने. मोर्नी मोर्केल (4-60) ने इशांत को शॉर्ट पिच गेंद पर आउट किया और इसके दो ओवर बाद कोहली को लांग ऑन पर कैच कराकर भारतीय पारी का अंत किया.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi