S M L

भारत-साउथ अफ्रीका पांचवां वनडे : साउथ अफ्रीकी सरजमीं पर पहली सीरीज जीतने की तलाश में उतरेगी टीम इंडिया

भारत के कलाई के स्पिनरों और साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजी लाइन अप के बीच फिर होगी रोचक जंग

Updated On: Feb 13, 2018 09:13 AM IST

FP Staff

0
भारत-साउथ अफ्रीका पांचवां वनडे : साउथ अफ्रीकी सरजमीं पर पहली सीरीज जीतने की तलाश में उतरेगी टीम इंडिया

भारतीय टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ छह मैचों की वनडे सीरीज में 3-1 से आगे है और वह चाहेगी कि वह इस बढ़त का फायदा उठाए. टीम इंडिया ने डरबन में पहला मैच छह विकेट, सेंचुरियन में नौ विकेट और केप टाउन में 124 रन से जीता था. लेकिन मेजबान टीम ने बारिश से प्रभावित चौथे पिंक वनडे में पांच विकेट से जीत हासिल कर वापसी की. लेकिन विराट की सेना मंगलवार को पोर्ट एलिजाबेथ में  पांचवें वनडे अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में जीत दर्ज कर यहां पहली वनडे सीरीज अपने नाम करके इतिहास बनाने की कोशिश करेगी

साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजी लाइन अप और भारत के कलाई के स्पिनरों के बीच अब भी मुकाबला अहम है. जोहानिसबर्ग में हालांकि बारिश के कारण हुई दो बार की बाधा ने भारत की बल्लेबाजी और गेंदबाजी में लय बिगाड़ दी. सबसे अहम बात यह रही कि बारिश के कारण लक्ष्य में संशोधन किया गया और एबी डिविलियर्स के जल्दी पवेलियन लौटने के बावजूद मेजबानों को इसे हासिल करने में जरा भी परेशानी नहीं हुई. यह मैच दूसरी पारी में टी-20 की तर्ज पर ही हुआ, जिसमें डेविड मिलर और हेनरिक क्लासन ने भारत के कलाई के स्पिनरों के खिलाफ आक्रामक बल्लेबाजी कर मैच छीन लिया. इस जीत से साउथ अफ्रीका ने सीरीज जीवंत रखी.

निश्चित रूप से भारत को कैच छोड़ने के अलावा मिलर को ‘नो बॉल’ फेंकना भारी पड़ा. लेकिन इससे यह साबित नहीं होता कि साउथ अफ्रीका ने युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की कलाई की स्पिन का सामना करना सीख लिया है. साथ ही भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह का अच्छी तरह इस्तेमाल नहीं किया गया, क्योंकि विराट कोहली ने स्पिनरों पर ही ज्यादा भरोसा दिखाया जबकि वे साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों की आक्रामकता को रोकने में असफल रहे थे. इसे देखते हुए पोर्ट एलिजाबेथ में भारतीय टीम का चयन काफी अहम रहेगा.

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मैच के बाद कहा था, ‘आपको साउथ अफ्रीका को श्रेय देना होगा. मुझे लगता है कि उन्होंने काफी शानदार जज्बा दिखाया, उन्होंने बेहतर खेल दिखाया और वे जीत के हकदार थे. उनकी टीम अच्छी है, हमें उनसे अच्छे क्रिकेट की उम्मीद थी और वे अच्छा भी खेले. हमें पता था कि एक और जीत दर्ज करने के लिए हमें अपने खेल में सर्वश्रेष्ठ होना होगा और इसके लिए बेहद कड़ा परिश्रम करना होगा."

टीमें इस प्रकार हैं:  भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, शार्दुल ठाकुर

साउथ अफ्रीका : ऐडन मार्करम (कप्तान), हाशिम अमला, जेपी ड्यूमिनी, इमरान ताहिर, डेविड मिलर, मोर्नी मोर्केल, क्रिस मॉरिस, लुंगीसानी एंगिडी, एंडिले फेलुकवायो, कैगिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, खायेलिहले जोंडो, फरहान बेहरदीन, हेनरिक क्लासन (विकेटकीपर), एबी डिविलियर्स.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

 

 

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi