विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

पाकिस्तान की वजह से भारत से छिनेगी एशिया कप क्रिकेट की मेजबानी!

मोदी सरकार ने अब तक नहीं दी है बीसीसीआई को भारत में पाकिस्तानी खिलाड़ियों को बुलाने की इजाजत अगले साल सितंबर में भारत में आयोजित होना है एशिया कप

FP Staff Updated On: Dec 08, 2017 03:32 PM IST

0
पाकिस्तान की वजह से भारत से छिनेगी एशिया कप क्रिकेट की मेजबानी!

भारत और पाकिस्तान के बीच खराब कूटनीतिक संबंधो की कीमत हमेशा खेलों को चुकानी पड़ी है. और इस बार भारत –पाकिस्तान तनाव के चलते बीसीसीआई को इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है. अगले साल भारत में सितंबर महीने में एशियाकप का आयोजन होना लेकिन भारत सरकार ने अब तक बोर्ड को इस बात की इजाजत नहीं दी है कि वह पाकिस्तानी क्रिकटरों को भारत मे क्रिकेट खेलने के लिए बुलाए लिहाजा भारत से इस टूर्नामेंट के मेजबानी छिन सकती है.

बीते 21 नवंबर को बीसीसीआई में सुप्रीम कोर्ट की बनाई प्रशासकों की समिति यानी सीओए की मीटिंग में  एशिया कप की मेजबानी का मसला उठा था. इस मीटिंग की जानकारियों यानी मिनट्स ऑफ मीटिंग  के मुताबिक भारत के लिए एशियाकप की मेजबानी करना अब मुश्किल लग रहा है.

मिनट्स ऑफ मीटिंग के मुताबिक इस मसले पर ‘ भारत सरकार ने अभी तक पाकिस्तान की क्रिकेट टीम को भारत आने की इजाजत नहीं दी है और अगर सरकार यह मंजूरी नहीं देती है तो बीसीसीआई को जल्द से जल्द एशियन क्रिकेट काउंसिल को सूचित करना होगा ताकि वह एशिया कप की मेजबानी के लिए कोई टूसरा विकल्प तलाश ले.’

vinod rai - Copy

 

सीओए को बीसीसीआई द्वारा दी गई इस जानकारी का साफ-साफ मतलब है कि भारत क लिए अब एशियाकप की मेजबानी करना मुश्किल है. इससे पहले सरकार ने अंडर 19 एशिया कप में भी पाकिस्तान की टीम को आने की इजाजत नहीं दी थी जिसके चलते भारत से इसकी मेजबानी छिन चुकी है.

पिछले दिनों बोर्ड के अधघिकारियों ने खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ से मुलाकात भी की थी लेकिन इस मसले का कोई हल नहीं निकल सका. बोर्ड को उम्मीद थी कि जिस तरह से एथलेटिक्स की एशिया की चैंपिय़नशिप में पाकिस्तान के एथलीट्स को भारत आने की मंजूरी दी गई थी वैसे ही एशियाकप के लिए भी मंजूरी मिल जाएगी लेकिन अब तक ऐसा नहीं हुआ है. भारत और पाकिस्तान के बीच आखिरी बार द्विपक्षीय सीरीज 2012-13 में खेली गई थी. दोनों देशों के बीच क्रिकेट ना होने के मसले को लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड आईसीसी का दरवाजा भी खटखटा चुका है जहां उसने बीसीसीआई से 70 मिलियन डॉलर के हर्जाने की भी मांग की है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi