S M L

भारत-ऑस्ट्रेलिया तीसरा टेस्ट: क्या होगी भारत की प्लेइंग इलेवन?

पिच को देखते हुए विराट कोहली को पांच गेंदबाजों के साथ उतरना चाहिए

Updated On: Mar 17, 2017 05:08 PM IST

FP Staff

0
भारत-ऑस्ट्रेलिया तीसरा टेस्ट: क्या होगी भारत की प्लेइंग इलेवन?

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा मैच 16 मार्च को जेएससीए स्टेडियम में खेला जाएगा. पुणे टेस्ट में शर्मनाक हार के बाद मेजबान भारत ने बेंगलुरु टेस्ट में शानदार वापसी की और मैच 75 रनों से जीतकर सीरीज में 1-1 की बराबरी किया. रांची टेस्ट में दोनों टीम जीत हासिल करके सीरीज में बढ़त बनाना चाहेगी.

लेकिन जीत के बाद भी भारतीय टीम में कुछ बदलाव होने की संभावना है. तो देखते हैं कि तीसरे टेस्ट मैच में क्या प्लेइंग इलेवन हो सकती है

1.केएल राहुल

युवा सलामी बल्लेबाज के.एल. राहुल बल्ले से अब तक सीरीज के हीरो रहे हैं. सीरीज में अब तक गेंदबाजों का दबदबा रहा हैं, इस दौरान राहुल ने सीरीज में सबसे अधिक रन बनाए हैं. अभिनव मुकुंद और मुरली विजय के नाकामी के बावजूद राहुल ने बेहद अच्छा खेल दिखाया हैं.

युवा बल्लेबाज के.एल. राहुल ने अब तक सीरीज की 4 पारियों में 3 अर्धशतकीय पारियों की मदद से सर्वाधिक 215 रन बनाए हैं. इस दौरान राहुल ने बेंगलुरु टेस्ट में 90 रनों की शानदार पारी भी खेली.

2. मुरली विजय

कंधे की चोट के कारण बेंगलुरु टेस्ट से बाहर होने वाले मुरली विजय का रांची टेस्ट में वापसी करना लगभग तय हैं. हालांकि विजय की मौजूदा फॉर्म चिंता का विषय जरूर हैं. लेकिन ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध उनका शानदार रिकॉर्ड कप्तान कोहली के लिए कुछ राहत की बात होगी.

विजय टीम के बेहद अनुभवी खिलाड़ी हैं. टीम मैनेजमेंट को रांची के मैदान पर विजय से एक बड़ी पारी की उम्मीद होगी. विजय के चोटिल होने के बाद अभिनव मुकुंद को पारी की शुरुआत का मौका दिया गया था, जिसमें वह नाकाम रहे हैं.

3. चेतेश्वर पुजारा

भारत की बल्लेबाजी की नई दीवार चेतेश्वर पुजारा ने पिछले कुछ साल से भारतीय टीम में खुद को नए द्रविड़ के रूप में स्थापित किया हैं. पिछला घरेलू सीजन चेतेश्वर पुजारा के लिए ड्रीम ईयर रहा है, इस दौरान पुजारा ने लगभग 100 की औसत से रन बनाए हैं.

पुजारा ने मौजूदा सीजन में बेहद शानदार प्रदर्शन किया हैं. बेंगलुरु टेस्ट में पुजारा की 92 रनों की पारी ने भारत को सीरीज में वापसी कराई थी. मौजूदा सीरीज में पुजारा ने अब तक 146 रन बनाए हैं

4. विराट कोहली

भारतीय कप्तान विराट कोहली मौजूदा समय में दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज हैं. हालांकि ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा सीरीज में अब तक कोहली का बल्ला शांत रहा हैं, जिस कारण उन्हें आईसीसी रैंकिंग में भारी नुकसान झेलना पड़ा हैं.

रांची में भारतीय कप्तान विराट कोहली का रिकॉर्ड बेहद ही शानदार रहा हैं, ऐसे में कोहली के मौजूदा सीरीज में पहले शतक की उम्मीद की जा सकती हैं. अब तक सीरीज में कोहली ने 4 पारियों में महज 40 रन बनाए हैं.

5. अजिंक्य रहाणे

अजिंक्य रहाणे भारत के बेहतरीन टेस्ट बल्लेबाजों में से एक हैं. ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा सीरीज शुरू होने से पहले रहाणे के चयन को लेकर सवालिया निशान थे, लेकिन कप्तान कोहली और कोच ने कुंबले ने युवा नायर से ज्यादा रहाणे पर विश्वास दिखाया.

बेंगलुरु टेस्ट में रहाणे ने शानदार अर्धशतक लगातार फॉर्म में वापसी के संकेत दे दिए हैं, बस अब टीम मैनेजमेंट उनसे बड़ी पारी की उम्मीद कर रही होगी.

6. आर. अश्विन

दुनिया के नंबर वन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन टेस्ट में भारत के सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं. पुणे टेस्ट में खराब प्रदर्शन के बाद फैन्स को उम्मीद थी कि बेंगलुरु टेस्ट में शानदार वापसी करेंगे, लेकिन ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में ऐसा नहीं देखने को मिला, जिसके बाद अश्विन पर दवाब बढ़ गया था.

इसी दौरान ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी के दौरान 6 विकेट लेकर अश्विन ने शानदार वापसी की. सीरीज में अब तक सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले अश्विन का सीमित ओवर के क्रिकेट में रांची में रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा हैं.

7. ऋद्धिमान साहा 

विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान  साहा ने सीरीज में अब तक बल्ले से बेहद निराश किया है, हालांकि इस दौरान साहा की विकेटकीपिंग बेहद शानदार रही है. सीरीज में अब तक साहा ने कुछ बेहद जबरदस्त कैच भी पकड़े हैं.

साहा को भारतीय टीम में अपनी जगह कायम रखने के लिए कीपिंग के साथ-साथ बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा, क्योंकि दूसरी ओर पार्थिव लगातार अच्छा प्रदर्शन के बावजूद भी टीम से बाहर हैं.

8. रवींद्र जडेजा

'सर' रवींद्र जडेजा मौजूदा समय में गेंदबाजी की टेस्ट रैंकिंग में दिग्गज रविचंद्रन अश्विन के साथ पहले पायदान पर हैं. पिछले कुछ समय में भारत के लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के पीछे जडेजा-अश्विन की जोड़ी की अहम भूमिका रही हैं.

भारतीय टीम में जडेजा की भूमिका बल्लेबाजों पर दबाव बनाने की रही है, जिसके कारण दूसरे छोर से अश्विन विकेट हासिल करते रहे हैं. रांची टेस्ट में इस घातक जोड़ी से कुछ ऐसी ही उम्मीद होगी.

9. कुलदीप यादव

ये नाम आपको थोड़ा आश्चर्य में डाल सकता है. रांची की पिच को लेकर खबर आ रही है कि पिच पहले ही दिन से स्पिनर्स को मदद देगी.

इसीलिए 22 साल के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध रांची टेस्ट से इंटरनेशनल क्रिकेट में पदार्पण कर सकते हैं.

पुणे टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजों के लचर प्रदर्शन के बाद भारतीय कप्तान कोहली ने 5 गेंदबाजों के फॉर्मूले की जगह 4 गेंदबाजों का फॉर्मूला अपनाया था. लेकिन बेंगलुरु टेस्ट में शानदार जीत के साथ कोहली एक बार दोबारा ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध आक्रामक रणनीति के साथ मैदान पर उतर सकते हैं. ऐसे में कुलदीप यादव पदार्पण करते हुए दिखाई दे सकते हैं. वैसे भी करुण नायर बेंगलुरु टेस्ट की दोनों पारियों में फेल रहे थे.

10. उमेश यादव

तेज गेंदबाज उमेश यादव ने सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया है. पुणे टेस्ट उमेश ने पहली पारी में 4 सहित कुल 6 विकेट हासिल किए, जबकि बेंगलुरु टेस्ट में यादव ने 3 अहम विकेट हासिल किए.

यादव ने अब तक सीरीज में भारतीय टीम में शुरुआती सफलता दिलाई है. बेंगलुरु टेस्ट में उमेश ने कप्तान स्मिथ और शॉन मार्श की अहम विकेट हासिल करके भारतीय टीम की मैच में वापसी कराई थी. रांची टेस्ट में उमेश भारत की शुरुआती सफलता दिलाने की कोशिश करेंगे.

11. इशांत शर्मा

इशांत शर्मा मौजूदा समय में भारत के सबसे सफल तेज गेंदबाज हैं. मौजूदा सीरीज में इशांत ने बेहद तेज और आक्रामक गेंदबाजी की हैं, जिसके सामने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज संघर्ष करते हुए दिखाई दिए हैं. बेंगलुरु टेस्ट में कप्तान स्मिथ की नकल के कारण भी इशांत सुर्खियों में रहे. टीम मैनेजमेंट को रांची टेस्ट में इशांत से अच्छी गेंदबाजी के साथ-साथ विकेट की भी दरकार होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi