S M L

भारत-ऑस्ट्रेलिया पहला टेस्ट, पहला दिन: बैकफुट पर टीम इंडिया

भारत की पहली पारी 189 रन पर सिमटी

Updated On: Mar 06, 2017 08:21 AM IST

FP Staff

0
भारत-ऑस्ट्रेलिया पहला टेस्ट, पहला दिन: बैकफुट पर टीम इंडिया

उम्मीद थी कि पुणे में जो कुछ हुआ, बेंगलुरू में उससे सब अलग होगा. सुबह टॉस का नतीजा अलग हुआ. भारत ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया, ये अलग हुआ. स्टीव ओ’कीफ को ज्यादा विकेट नहीं मिले, ये अलग हुआ. लेकिन जो अलग नहीं हुआ, वो ये कि भारत पुणे की तरह यहां कम से कम पहले दिन मुश्किलों में फंसा रहा.

नैथन लायन ने सिर्फ 50 रन देकर आठ विकेट लिए. इसके साथ ही एम.चिन्नास्वामी स्टेडियम में पूरी तरह मेहमान टीम का दबदबा रहा. शनिवार को दूसरे टेस्ट के पहले दिन ऑस्ट्रेलिया ने भारत को पहली पारी में 189 रनों पर ढेर कर दिया. मेजबानों के लिए सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल ने सर्वाधिक 90 रन बनाए. राहुल ने अपनी पारी में 205 गेंदों का सामना किया और नौ बार गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाया.

जवाब में दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने बगैर किसी नुकसान के 40 रन बनाए. डेविड वॉर्नर 23 और मैट रेनशॉ 15 रन बनाकर नॉट आउट हैं. अब मैच की सुबह ऑस्ट्रेलिया की कोशिश भारत पर ज्यादा से ज्यादा बढ़त बनाने की होगी.

इससे पहले, दिन के पहले सत्र में दो और दूसरे सत्र में तीन विकेट गंवाने वाली भारतीय टीम तीसरे सत्र में ज्यादा देर टिक नहीं सकी. उसने बाकी के पांच विकेट 21 रनों के भीतर गंवा दिए. लायन भारत के खिलाफ टेस्ट मैच में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज बन गए हैं. उन्होंने इस मामले में ब्रेट ली को पीछे छोड़ा है.

टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम को मुकुंद के रूप में पहला झटका लगा. साढ़े पांच साल बाद टीम में वापसी कर रहे मुकुंद, मिचेल स्टार्क की फुलटॉस गेंद पर क्रॉस शॉट खेलने गए. लेकिन गेंद सीधे उनके पैड पर जा लगी. अंपायर ने उन्हें पगबाधा करार दिया.

हालांकि रिप्ले से लग रहा था कि गेंद लेग स्टम्प से बाहर जा रही थी. लेकिन भारतीय टीम ने इस पर रिव्यू लेना उचित नहीं समझा. मुकुंद आठ गेंद खेलने के बाद भी खाता नहीं खोल पाए. वह तीसरे ओवर में 11 के कुल स्कोर पर आउट हुए.

इसके बाद उतरे पुजारा ने राहुल के साथ मिलकर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का अच्छी तरह सामना किया और भारत को शुरुआती झटके से उबारा. लग रहा था कि पुजारा पहले सत्र में नाबाद लौटेंगे, लेकिन लायन ने 28वें ओवर की पांचवीं गेंद पर उन्हें आउट कर भारत को दूसरा झटका दिया और इसी के साथ भोजनकाल की घोषणा कर दी गई. पुजारा ने राहुल के साथ दूसरे विकेट के लिए 61 रनों की साझेदारी की.

दूसरे सत्र में राहुल ने अपना अर्धशतक पूरा किया. कप्तान विराट कोहली (12) राहुल का ज्यादा देर साथ नहीं दे सके और लायन की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए. इस पर कोहली ने रिव्यू भी मांगा. लेकिन यह उनके खिलाफ ही गया. कोहली 88 के कुल स्कोर पर आउट हुए.

लायन इस मैच को मिलाकर कोहली और पुजारा को पांच-पांच बार आउट कर चुके हैं. उनसे ज्यादा कोई और गेंदबाज इन दोनों बल्लेबाजों को टेस्ट में इतनी बार आउट नहीं कर पाया है. उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे (17) ने राहुल का साथ देने की कोशिश की. यह साझेदारी मजबूत हो रही थी तभी लायन ने मेजबानों को चौथा झटका दिया. लायन की गेंद पर रहाणे बीट हो गए और मैथ्यू वेड ने उन्हें स्टंप किया. दोनों ने मिलकर 30 रन जोड़े.

इंग्लैंड के खिलाफ तिहरा शतक लगाने के बाद इस मैच में पहली बार अंतिम एकादश में शामिल किए गए करुण नायर (26) भी अच्छी शुरुआत को आगे नहीं बढ़ा पाए. नायर को पहले मैच के हीरो स्टीव ओ’कीफ ने स्टंप करवाया। यह भारत का पांचवां विकेट था.

चायकाल तक भारत का स्कोर पांच विकेट के नुकसान पर 168 था. तीसरा सत्र खेलने उतरी भारतीय टीम के खाते में छह रन ही जु़ड़े थे कि रविचंद्रन अश्विन (7) को लायन ने पवेलियन पहुंचाया। इसके बाद लायन ने ऋद्धिमान साहा (1), रवींद्र जडेजा (3), राहुल और इशांत शर्मा को पवेलियन भेज भारतीय पारी का अंत किया.

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से लायन के अलावा स्टार्क और ओ’कीफ को एक-एक सफलता मिली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi