S M L

IND vs NZ, 3rd T20I at Hamilton : सीरीज जीत के साथ दौरे का अंत करने में नाकाम रही टीम इंडिया

IND vs NZ : न्यूजीलैंड ने भारत को रोमांचक तीसरे और निर्णायक टी-20 मुकाबले में चार रन से हराकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली

Updated On: Feb 10, 2019 05:36 PM IST

FP Staff

0
IND vs NZ, 3rd T20I at Hamilton : सीरीज जीत के साथ दौरे का अंत करने में नाकाम रही टीम इंडिया

भारतीय टीम इस लंबे दौरे का अंत एक और ऐतिहासिक जीत के साथ करने में असफल रही. भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड आने से पहले ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया और वहां टेस्ट और वनडे सीरीज जीत कर इतिहास रचा. इसके बाद टीम न्यूजीलैंड आई और उसने ब्लैक कैप्स से वनडे सीरीज 4-1 के बड़े अंतर से जीत ली. लेकिन कॉलिन मुनरो (72) और टिम सेइफर्ट (43) की शानदार पारियों के दम पर न्यूजीलैंड ने रविवार को हेमिल्टन के सेडन पार्क मैदान पर भारत को रोमांचक तीसरे और निर्णायक टी-20 मुकाबले में चार रन से हराकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली. न्यूजीलैंड ने 20 ओवर में चार विकेट पर 212 रन का विशाल स्कोर बनाया. जवाब में भारत छह विकेट पर 208 रन ही बना सका. मेहमान टीम की ओर से हालांकि विजय शंकर (43), कप्तान रोहित शर्मा (38) और दिनेश कार्तिक (नाबाद 33) ने भी अच्छी पारियां खेलीं, लेकिन कोई भी उसे मंजिल तक नहीं पहुंचा सके.

भारतीय टीम अगर ये मैच जीत जाती तो यह न्यूजीलैंड की जमीन पर उसकी पहली टी-20 सीरीज जीत होती. पहले मैच में करारी हार के बाद भारत ने दूसरे मैच में शानदार वापसी कर न्यूजीलैंड में अपनी पहली टी-20 जीत हासिल की थी. कीवी टीम ने सेडन पार्क पर अपना शानदार रिकॉर्ड बनाए रखा है. मेजबान टीम ने यहां नौ टी-20 मैच खेले हैं और उसे सात में जीत मिली है.

सीरीज हारने के साथ भारत पाकिस्तान के रिकॉर्ड की बराबरी करने से चूक गया. पिछली दस  टी-20 सीरीज में अजेय रही भारतीय टीम के पास न्यूजीलैंड को मात देकर लगातार 11 टी-20 सीरीज जीतने का मौका था लेकिन वह ऐसा नहीं कर सके. पाकिस्तान के नाम लगातार 11 टी-20 सीरीज जीतने का रिकॉर्ड है. टी-20 के इतिहास में यह पहला मौका है जब भारत ने तीन मैचों की टी-20 सीरीज गंवाई है. भारत ने इससे पहले दस सीरीज खेली थीं, जिसमें उसने नौ जीती हैं और एक ड्रॉ रही है.

New Zealand on winning the t 20 series 2-1

मेजबान टीम से मिले 213 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने छह रन के कुल स्कोर पर ही शिखर धवन (05) का विकेट गंवा दिया. इसके बाद कप्तान रोहित शर्मा ने विजय शंकर के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 75 रन जोड़े. विजय शंकर ने 28 गेंदों की पारी में पांच चौके और दो छक्के लगाए. रोहित ने ऋषभ पंत (28) के साथ तीसरे विकेट के लिए भी 40 रन की साझेदारी की. ऋषभ पंत 12 गेंदों पर एक चौका तीन छक्के लगाकर टीम के 121 के स्कोर पर आउट हुए. इसके बाद कप्तान रोहित भी एक लंबा शॉट लगाने के चक्कर में बाउंड्री पर टिम सेइफर्ट के हाथों लपके गए. हार्दिक पांड्या 11 गेंदों पर एक चौका और दो छक्के की मदद से 21 रन की पारी खेलकर टीम के 145 के स्कोर पर पांचवें बल्लेबाज के रूप में आउट हुए.

ये भी पढ़ें- Ind vs NZ, 3rd T20: हैमिल्टन में हार के साथ पाकिस्तान की बराबरी करने से चूका भारत

महेंद्र सिंह धोनी भी आज अनहोनी को होनी में नहीं बदल सके. वह केवल दो रन बनाकर पवेलियन लौट गए. भारत ने उनका विकेट 145 के स्कोर पर गंवा दिया. धोनी के आउट होने के साथ उम्मीदें कम हो गई थीं. लेकिन दिनेश कार्तिक और क्रुणाल पांड्या (नाबाद 26) ने सातवें विकेट के लिए 63 रन की अटूट साझेदारी कर ना केवल भारत की उम्मीदें बंधाई बल्कि मेजबान टीम की सांसे अटका दी थीं. भारत को आखिरी ओवर में 16 रन बनाने थे, लेकिन वह 11 रन ही बना पाई. मैच की अंतिम गेंद पर दिनेश कार्तिक ने शानदार छ्क्का लगाया, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी.  दिनेश कार्तिक ने 16 गेंदों पर चार छक्के और क्रुणाल ने 13 गेंदों पर दो चौके और इतने ही छक्के लगाए. न्यूजीलैंड की ओर से डेरिल मिचेल और मिचेल सेंटनर ने दो-दो जबकि स्कॉट कुगेलिन और ब्लेयर टिकनर ने एक-एक विकेट लिए.

इससे पहले कॉलिन मुनरो और टिम सेइफर्ट ने पहले विकेट के लिए 7.4 ओवर में 80 रनों की साझेदारी की. कुलदीप यादव ने सेइफर्ट को विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के हाथों स्टंप कराकर भारत को पहली सफलता दिलाई. सेइफर्ट ने 25 गेंदों पर तीन चौके और इतने ही छक्के उड़ाए. मुनरो ने कप्तान केन विलियमसन के साथ भी दूसरे विकेट के लिए 55 रन जोड़े. कुलदीप ने मुनरो को हार्दिक पांड्या के हाथों कैच कराकर इस साझेदारी का अंत किया.

ये भी पढ़ें- IND vs NZ: विकेट के पीछे फिर दिखी धोनी की बिजली जैसी फुर्ती, अंपायर को भी समझने में लग गया समय VIDEO

मुनरो ने 40 गेंदों की तेजतर्रार पारी में पांच चौके और इतने ही छक्के जड़े. विलियमसन ने 21 गेंदों पर तीन चौकों की सहायता से 27 रनों का योगदान दिया. उनके अलावा कॉलिन डीग्रैंडहोम ने 16 गेंदों पर तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 30,  डेरिल मिचेल ने 11 गेंदों पर तीन चौकों के दम पर नाबाद 19 और रॉस टेलर ने सात गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की सहायता से नाबाद 14 रन की पारी खेली. भारत की ओर से कुलदीप यादव सबसे सफल गेंदबाज रहे. कुलदीप ने 26 रन पर दो विकेट चटकाए. भुवनेश्वर कुमार और खलील अहमद को एक-एक सफलता मिली.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi