S M L

100 Days to World Cup: क्या इंग्लैंड में कपिल का इतिहास दोहरा पाएंगे कोहली?

icc cricket world cup 2019 : भारत ने साल 1983 में कपिल देव की कप्तानी में इंग्लैंड में ही पहली बार इस खिताब पर कब्जा किया था

Updated On: Feb 18, 2019 06:31 PM IST

Riya Kasana Riya Kasana

0
100 Days to World Cup: क्या इंग्लैंड में कपिल का इतिहास दोहरा पाएंगे कोहली?

आज (18 फरवरी)  से 100 दिन बाद इंग्लैंड में शुरू होगा क्रिकेट का महाकुंभ यानी वर्ल्ड कप (Cricket World Cup 2019). 30 मई से ओवल में क्रिकेट की दस सबसे बड़ी टीमें 50 ओवर के क्रिकेट में दुनिया की नंबर वन टीम बनने की कोशिश करेंगी. इंग्लैंड और वेल्स के 11 वेन्यू पर 48 मैच खेले जाएंगे. दस टीमों के बीच रॉबिन राउंड खेला जाएगा. टॉप चार टीमें सेमीफाइनल में पहुंचेगी. टूर्नामेंट के विजेता का फैसला लॉर्ड्स में होने वाले फाइनल मुकाबले के बाद होगा. 20 साल बाद इंग्लैंड वर्ल्ड कप की मेजबानी कर रहा है. इससे पहले वह चार बार वर्ल्ड कप की मेजबानी कर चुका है. इंग्लैंड ने साल 1975, 1979, 1983 और 1999 में वर्ल्ड कप की मेजबानी कर चुका है.

जानिए भारत के लिए कितना लकी है इंग्लैंड

1. साल 1975

साल 1975 में पहली बार वर्ल्ड कप का आयोजन किया गया जिसकी मेजबानी इंग्लैंड ने की. भारत इस वर्ल्ड कप में एस वेंकटराघवन की कप्तानी में पहले ही राउंड में बाहर हो गया. भारत ने तीन मुकाबले खेले. पहले मुकाबले में उसे मेजबानी इंग्लैंड से 202 रनों की बड़ी मात मिली. इसके बाद भारत ने ईस्ट अफ्रीका को 10 विकेट से हराया. लीग राउंड के आखिरी मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को चार से मात देकर टूर्नामेंट से बाहर कर दिया.

2. साल 1979

भारत के लिए दूसरा वर्ल्ड बुरा सपने जैसा रहा. इस बार भी वह पहले राउंड से ही बाहर हो गया. भारत ने इस टूर्नामेंट में तीन मैच खेले और उसे तीनों में ही हार का सामना करना पड़ा. एक बार फिर वेंकटराघवन बतौर कप्तान टीम को एक भी जीत नहीं दिला पाए.

3. साल 1983

लगातार तीसरी बार इंग्लैंड ने इस टूर्नामेंट की मेजबानी की. हालांकि यह साल भारत के इतिहास में सुनहरा साल बन गया. एक ऐसा साल जिसने भारत में इस खेल की किस्मत बदल दी. ऑलराउंडर कपिल देव की कप्तानी में भारत ने इस टूर्नामेंट के अपने पहले ही मैच में वेस्टइंडीज को मात दी.

kapil dev

लीग राउंड के छह मैचों में से भारत ने चार में जीत हासिल करके पहली बार सेमीफाइनल में जगह बनाई. सेमीफाइनल में इंग्लैंड को उसी की जमीन पर मात देकर फाइनल में वेस्टइंडीज का सामना किया. लोगों की उम्मीदों से परे उन्होंने उस समय की नंबर एक टीम को मात देकर वर्ल्ड कप अपने नाम किया.

4. साल 1999

साल 1999 में भारतीय टीम तीसरी बार मोहम्मद अजरूद्दीन की कप्तानी में इंग्लैंड पहुंची जो चौथी बार इसकी मेजबानी कर रहा था. भारत इस समय तक लोगों की नजरों में एक मजबूत टीम बन चुकी थी. भारत इस टूर्नामेंट में पहला राउंड पार करके सुपर सिक्स तक पहुंचने में कामयाब रही. हालांकि इसके बाद तीन में से दो मैच हारने के कारण वो इससे आगे नहीं पहुंच पाई.

इस साल भारतीय टीम विराट कोहली की कप्तानी में इंग्लैंड पहुंचेगी. बीसीसीआई ने अभी तक टीम घोषित नहीं की है. भारत टूर्नामेंट में अभियान की शुरुआत आठ जून को साउथ अफ्रीका के खेलकर करेगी. भारतीय फैंस यही उम्मीद कर रहे हैं कि कोहली एक बार फिर लॉर्ड्स में वर्ल्ड का सुनहरा इतिहास दोहराए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi