विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017: इस खिलाड़ी ने बदली पाकिस्तान टीम की किस्मत!

फखर जमां ने पूरे टूर्नामेंट में पाकिस्तान को तेज शुरुआत दिलाई

Lakshya Sharma Updated On: Jun 19, 2017 09:41 AM IST

0
आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017: इस खिलाड़ी ने बदली पाकिस्तान टीम की किस्मत!

पाकिस्तान की बल्लेबाजी कभी उसकी ताकत नहीं रही. खासकर अगर ओपनर की बात करें तो शायद आमिर सोहेल और सईद अनवर के अलावा कोई तीसरा नाम याद नहीं आता. इस बीच पाकिस्तान टीम में ओपनर तो बहुत आए लेकिन जिस गति से वह आए उसी गति से वह टीम से बाहर भी निकल गए. लेकिन शायद अब पाकिस्तान को एक ऐसा ओपनर मिल गया है जो उसे ताबड़तोड़ शुरुआत दे सकता हैं. इस युवा बल्लेबाज ने हर किसी को अपनी बल्लेबाजी का फैन बनाया है. इस खिलाड़ी का नाम है फखर जमां.

आप जरा खुद सोचिए, कोई युवा खिलाड़ी अगर आईसीसी के किसी टूर्नामेंट में अपना पहला मैच खेलता है तो उस पर कितना दबाव होगा. वह भी जब उसकी टीम बुरी तरह मैच हारी हो. लेकिन जैसे ही फखर पाकिस्तान टीम में आए,तो पूरी पाकिस्तान टीम रंग ही बदल गया. भारत के महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने तो सिर्फ 4 मैचों बाद ही फखर की तुलना आमिर सोहेल से कर दी.

इसका सबसे बड़ा कारण हैं फखर की तूफानी बल्लेबाजी. इस टूर्नामेंट में फखर ने 4 मैच खेले हैं और हर मैच में पाकिस्तान को तेज शुरुआत दिलाई है.

इससे पहले पाकिस्तान की यही परेशानी थी कि उसे तेज शुरुआत नहीं मिल पा रही थी. अहमद शहजाद और अजहर अली दोनों ही धीमी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन फखर ने पाकिस्तान की इस कमी को भी दूर कर दिया.

फाइनल में भी फखर को शुरुआत में बुमराह और भुवनेश्वर की गेंदों को खेलने में परेशानी आ रही थी. लेकिन उसके बाद भी उन्होंने अपना विकेट फेंका नहीं. हालांकि इस दौरान वह लकी भी रहे कि जिस गेंद पर वह आउट हुए वह नो बॉल थी. लेकिन इसके बाद तो फखर ने हर भारतीय गेंदबाज की धुनाई की. विश्व के दो सबस बेहतरीन स्पिनर अश्विन और जडेजा को उन्होंने मनमाफिक तरीके से मारा. इसके बाद फाइनल में उन्होंने एक ऐतिहासिक शतक लगाया और अपनी टीम का स्कोर 339 तक पहुंचाया.

वैसे फखर का बल्ला सिर्फ फाइनल में नहीं चला. पूरे टूर्नामेंट में ही उनकी बल्लेबाजी शानदार रही है. फखर ने 4 मैचों में करीब 63 की औसत से 252 रन बनाए. 113 का स्ट्राइक इस आंकड़ों को और बेहतर बना देते हैं. फखर ने इन 4 मैचों में 2 अर्धशतक और एक शतक भी लगाया.

फखर जमां का नाम सबसे पहले इस साल पीएसएल में सुनने को आया था. इस लीग में फखर ने रनों का अंबार खड़ा किया था, जिसके कारण उन्हे पाकिस्तान टीम में जगह मिली. फखर अपने शानदार प्रदर्शन के पीछे न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैकलम और पाकिस्तान के महान बल्लेबाज युनूस खान का हाथ बताते हैं. फखर का कहना है कि पहली बार युनूस खान ने ही मुझ पर विश्वास दिखाया था और उनकें कहने पर मैं प्रोफेशनल क्रिकेट में आया. वहीं मैकलम ने मुझे एक आक्रामक खिलाड़ी बनाया

अब उम्मीद है कि पाकिस्तान का ये नया स्टार खिलाड़ी यूं ही चमकता रहे और अपनी टीम को जीत दिलाता रहे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi