S M L

सहवाग का खुलासा, 'सबसे पहले मुझे गांगुली के खिलाफ चैपल की साजिश का पता चला था'

टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग के मुताबिक उन्होंने गांगुली को ग्रैग चैपल की साजिश के बारे में आगाह कर दिया था

FP Staff Updated On: Apr 21, 2018 03:40 PM IST

0
सहवाग का खुलासा, 'सबसे पहले मुझे गांगुली के खिलाफ चैपल की साजिश का पता चला था'

साल 2005 में टीम इंडिया के कप्तान सौरव गांगुली और कोच ग्रेग चैपल की बीच हुई तनातनी और उसके बाद टीम सौरव गांगुली की छुट्टी भारतीय क्रिकेट के इतिहास का एसा वाकिया है जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता. इस मसले को लेकर वक्त-वक्त पर नए खुलासे होते रहते हैं.

ताजा खुलासा भारतीय टीम के विस्फोटक ओपनर रहे वीरेंद्र सहवाग ने किया है. सहवाग का कहना है कि उन्हें गांगुली के खिलाफ चैपल की साजिश का पता चल गया था और उन्होंने गांगुली को इससे आगाह भी कर दिया था. एक किताब के विमोचन के वक्त  उन्होंने यह बात कही है.

सहवाग का कहना है कि 2005 में  भारत के जिम्बाब्वे दौरे के वक्त उन्होंने चैपल को गांगुली के खिलाफ बीसीसीआई को मेल करते हुए देख लिया था. सहवाग बताते है, ‘ उन दिनों मैं लगातार फील्डिंग नहीं करता था और अंपायर को पेट खराब होने की बात कह कर करीब पांच ओवर के लिए रेस्ट करने चला जाता था. इसी दौरान एक दिन जब में ग्रैग चैपल के पास कुर्सी पर बैठा था तो मैंने उन्हें बीसीसीआई को मेल करते हुए देख लिया था. मैने फील्ड पर वापस आकर गागुंली को बताया कि चैपल ने बोर्ड को एक ‘बेहद सीरियस’ ईमेल भेजा है.’

इस दौरे के बाद ही गांगुली टीम इंडिया से बाहर हो गए थे. इसके बाद गांगुली ने करीब साल भर बाद टीम में वापसी तो की लेकिन फिर वह कभी कप्तान नहीं बन सके थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi