Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

हर्षा भोगले की होगी कमेंट्री बॉक्स में वापसी, मुश्किल में सुनील गावस्कर

हितों के टकराव के चलते गावस्कर की हो सकती है छुट्टी ,लिटिल मास्टर की जगह बोर्ड एल शिवराम कृष्णन को कर सकता है कमेंट्री पैनल में शामिल

Sumit Kumar Dubey Sumit Kumar Dubey Updated On: Aug 10, 2017 08:37 PM IST

0
हर्षा भोगले की होगी कमेंट्री बॉक्स में वापसी, मुश्किल में  सुनील गावस्कर

क्रिकेट के खेल की अपनी बेहतरीन समझ और उसके सटीक विश्लेषण के मशहूर हर्षा भोगले की अब कमेंट्री बॉक्स में वापसी हो रही है. बीसीसीआई ने अपने कमेंट्री पैनल के लिए जिन चार कमेंटेटरों को शॉर्ट लिस्ट किया है उसमें हर्षा का नाम भी शामिल. हालांकि लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर के लिए अब बोर्ड के कमेंटेटरो के पैनल में बने रहना मुश्किल हो गया है उन पर हितों के टकराव का आरोप है और इस पैनल में बने रहने के लिए उन्हें अपनी कंपनी या कमेंटरी में से किसी एक को चुनना होगा.

बोर्ड के पास तैयार है गवस्कर का विकल्प

अगर सुनील गावस्कर हितों के टकराव का हलफनामा देने में नाकाम रहते हैं तो फिर बोर्ड ने उनका विकल्प भी तैयार कर लिया है. बीसीसीआई से जुड़े सूत्रों के मुताबिक अगर गावस्कर कमेंट्री की बजाय अपनी कंपनी को चुनते हैं तो फिर उनकी जगह पर पूर्व लेग स्पिनर एल शिवराम कृष्णन को चार कमेंटेटरों के इस पैनल में शामिल किया जा सकता है. गावस्कर और हर्षा भोगले के अलावा संजय मांजकेर और मुरली कार्तिक को बोर्ड के कमेट्री पैनल में शामिल करने पर सहमति बन गई है. लेकिन इन चारों कमेंटेटरों को बोर्ड के साथ करार करने से पहले एक हलफनामा देना होगा कि वे लोढ़ा कमेटी के मुताबिक तय की गए हितों के टकराव के दायरे में नहीं आते हैं.

रामचंद्र गुहा ने लगाया था गावस्कर पर आरोप

सुप्रीम कोर्ट की बनाई प्रशासकों की समिति यानी सीओए के सदस्य और इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने पिछले दिनों अपने इस्तीफे में गावस्कर पर हितों के टकराव के आरोप लगाए थे. गुहा ने अपनी चिट्ठी में लिखा था कि गावस्कर की कंपनी शिखर धवन समेत कुछ क्रिकेटरों का मैनेजमेंट देखती है ऐसे में बतौर कमेंटेटर उनकी राय सेलेक्शन को प्रभावित कर सकती है और यह सीधे-सीधे हितों के टकराव का मामला है.

हालांकि गावस्कर ने गुहा के उस आरोप  को सिरे से नकार दिया था और दावा किया था कि उन्होंने कमेंटरी के दौरान कभी भी ऐसा कुछ भी कमेंट नहीं किया जो हितों के टकराव के दायरे में आता हो. बहरहाल बोर्ड के अब इस नए रुख से साफ है कि गावस्कर को अपनी कंपनी या कमेंटरी में से किसी एक को चुनना होगा. बोर्ड के सूत्रों के मुताबिक अगर गावस्कर अपनी कंपनी का पद छोड़ने के एवज में हर्जाने की मांग करते हैं तो उसे तवज्जो नहीं दी जाएगी.

अमिताभ बच्चन की ट्वीट से हुई थी हर्षा भोगले की छुट्टी!

वहीं दूसरी ओर हर्षा भोगले की कमेंटरी बॉक्स में वापसी तय लग रही है. क्रिकेट की बेमिसाल आवाज माने जाने वाले हर्षा भोगले को पिछले साल कुछ सीनियर भारतीय खिलाड़ियों की शिकायत के बाद बोर्ड ने अपने कमेंट्री पैनल से हटा दिया था. पिछले साल भारत में ही हुए टी 20 वर्ल्डकप में भारत बांग्लादेश के बीच हुए मुकाबले के दौरान हर्षा ने बांग्लादेशी क्रिकेटरों की तारीफ की थी जो टीम इंडिया के सीनियर खिलाड़ियों को पसंद नहीं आई थी. इसी दौरान क्रिकेट के फैन और फिल्म स्टार अमिताभ बच्चान ने ट्वीट करके बिना नाम लिए हर्षा पर निशाना साधा था.

 

 

 

जिसे तब के भारतीय कप्तान एमएस धोनी ने भी रीट्वीट कर दिया था और इसके बाद ही बतौर कमेंटेटर हर्षा की छुट्टी हो गई थी. इसके बाद हर्षा भारत के विदेशी दौरे पर तो कमेंट्री करते दिखे लेकिन भारत में होने वाले क्रिकेट मुकाबलों और आईसीसी के मुकाबलों में उनकी आवाज गायब हो गई. लेकिन अब वक्त बदल चुका है और हर्षा कमेंट्री बॉक्स में वापस आ रहे हैं. ऐसे में अब देखना होगा हर्षा की कमेंट्री में फिर से वही सटीकता और निष्पक्षता नजर आती है या नहीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi