S M L

ऑस्ट्रेलिया के सबसे बड़े विरोधी रहे हरभजन क्यों ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट का दे रहे हैं साथ

स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि भारत को डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने चाहिए और गुलाबी गेंद से होने वाले मैचों को लेकर अपनी आशंकाओं को खत्म कर देना चाहिए

Updated On: May 17, 2018 08:07 PM IST

FP Staff

0
ऑस्ट्रेलिया के सबसे बड़े विरोधी रहे हरभजन क्यों ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट का दे रहे हैं साथ

स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि भारत को डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने चाहिए और गुलाबी गेंद से होने वाले मैचों को लेकर अपनी आशंकाओं को खत्म कर देना चाहिए.

भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस साल के आखिर में एडिलेड में दिन रात्रि टेस्ट मैच खेलने से इन्कार कर दिया जिसके कारण कई पूर्व क्रिकेटरों ने उसकी आलोचना की. इनमें मार्क वॉ और इयान चैपल भी शामिल हैं. हरभजन ने कहा , ‘मुझे नहीं पता कि वे दिन रात्रि टेस्ट मैच क्यों नहीं खेलना चाहते हैं. यह दिलचस्प प्रारूप है और हमें इसे अपनाना चाहिए. मैं पूरी तरह से इसके पक्ष में हूं.’

उन्होंने कहा , ‘मुझे बताइए कि गुलाबी गेंद से खेलने को लेकर क्या आशंकाएं हैं. अगर आप खेलते हो तो आप सामंजस्य बिठा सकते हो. हो सकता है कि यह उतना मुश्किल न हो जितना माना जा रहा है.’प्रशासकों की समिति ( सीओए ) ने अगले 18 महीने तक दिन रात्रि टेस्ट मैच नहीं खेलने की भारतीय टीम की मांग स्वीकार की. सीओए प्रमुख विनोद राय ने कहा , ‘मेरा मानना है कि प्रत्येक टीम सीरीज जीतना चाहती है और यही वजह है कि हम अपनी टीम को सर्वश्रेष्ठ संभावित मौका देना चाहते हैं.’

हरभजन से पूछा गया कि भारतीय बल्लेबाजों को फ्लड लाइट में जोश हेजलवुड और मिचेल स्टार्क का सामना करने में दिक्कत हो सकती है , उन्होंने अपने अंदाज में सपाट जवाब दिया.इस ऑफ स्पिनर ने कहा , ‘अगर आप आउट हो जाते हो तो क्या होगा ? हमारे पास भी तेज गेंदबाज हैं जो उन्हें परेशानी में डाल सकते हैं. और हमें क्या लगता है कि हमारे बल्लेबाज ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों का सामना नहीं कर सकते हैं. यह एक चुनौती है और चुनौती स्वीकार करने में क्या नुकसान होने वाला है. जब हम टेस्ट क्रिकेट में नए थे तो केवल एसजी गेंद से गेंदबाजी करना जानते थे लेकिन धीरे धीरे कूकाबुरा और ड्यूक से गेंदबाजी करना सीखे.’ उन्होंने कहा , ‘जिंदगी सीखने की प्रक्रिया है और अगर हम नए प्रारूप को अपनाते हैं तो उसमें कोई नुकसान नहीं है.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi