S M L

बीसीसीआई ने जूनियर क्रिकेटरों के लिए भी जीएसटी रजिस्ट्रेशन किया अनिवार्य

इससे पहले क्रिकेटरों को देना होता था 15 फीसदी सर्विस टैक्स, अब हर स्तर के क्रिकेटर के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन जरूरी

Updated On: Nov 02, 2017 07:09 PM IST

FP Staff

0
बीसीसीआई ने जूनियर क्रिकेटरों के लिए भी जीएसटी रजिस्ट्रेशन किया अनिवार्य

देश में टैक्स की नई व्यवस्था यानी जीएसटी का असर क्रिकेटरों पर भी पड़ने वाला है. बीसीसीआई से जुड़े तमाम क्रिकेटरों को भी जीएसटी नंबर लेना अनिवार्य होगा. इससे पहले क्रिकेटरों को बोर्ड से मिलने वाले भुगतान पर 15 फीसदी सर्विस टैक्स देना पड़ता था और उसमें भी कई क्रिकेटर उसके दायरे से बाहर रहते थे.

लेकिन पूरे देश में जीएसटी लागू होने के बाद क्रिकेटरों के लिए भी इसके तहत रजिस्ट्रेशन करवा के जीएसटी नंबर लेना जरूरी हो गया है. और यह रजिस्ट्रेशन महज सीनियर क्रिकेटरों के लिए ही नही बल्कि अंडर - 16, अंडर - 19 और अंडर -  23 स्तर के खिलाड़ियो पर भी लागू  होगा.

बोर्ड की ओर से 2017-18 के सीजन के लिए जारी की गई नई गाइडलाइंन के मुताबिक अब हर वर्ग के क्रिकेटर को जीएटी के हिसाब से ही भुगतान किया जाएगा. सुप्रीम कोर्ट की बनाई प्रशासकों की समिति यानी सीओए ने निर्देशों के में तैयार हुई यह गाइडलाइंस अब बोर्ड की स्टेट यूनिट्स कर पहुंच चुकीं हैं.जिसके बाद खिलाड़ियों को जीएसटी नंबर लेने की हिदायत दी जा रही है.

आपको बता दें कि खेलो की दुनिया में जीएसटी के पहले से ही आलोचना की जा रही है. जीएसटी के चलते खेलों से जुडे सामना अधिक टैक्स के दायरे में आ गे है जिससे उनकी बिक्री पर भी असर पड़ रहा है,

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi