S M L

अर्जुन रणतुंगा ने श्रीलंका क्रिकेट के अध्यक्ष पर लगाए आरोप, आईसीसी से की जांच करने का मांग

श्रीलंका के नाकाम प्रदर्शन से नाराज है रणतुंगा, पिछले दिनों साल 2011 वर्ल्डकप फाइनल में फिक्सिंग के लागाए थे आरोप

Updated On: Aug 09, 2017 03:53 PM IST

FP Staff

0
अर्जुन रणतुंगा ने श्रीलंका क्रिकेट के अध्यक्ष पर लगाए आरोप, आईसीसी से की जांच करने का मांग

हाल ही में साल 2011 के वर्ल्डकप के फाइनल मुकाबले के फिक्स होने का आरोप लगाने वाले श्रीलंका के पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने श्रीलंका की लगातार शर्मनाक पराजयों के लिए देश के क्रिकेट प्रमुख को दोषी ठहराया और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद आईसीसी से इसकी जांच करने के लिए कहा.

 

रणतुंगा ने एएफपी से कहा कि राष्ट्रीय टीम में किसी तरह का अनुशासन नहीं है जिसके कारण उसे लगातार हार का सामना करना पड़ रहा है. इसे 53 वर्षीय रणतुंगा की श्रीलंका क्रिकेट का प्रमुख बनने की शुरूआती पहल के रूप में देखा जा रहा है. श्रीलंका की टीम भारत से दूसरे टेस्ट मैच में पारी और 53 रन से हार गई थी. पहले टेस्ट मैच में टीम को 304 रन से हार झेलनी पड़ी थी. अब टीम 3 मैचों की श्रृंखला में व्हाइटवाश से बचने के लिये संघर्ष कर रही है.

इससे पहले श्रीलंका चैंपियन्स ट्राफी में जल्दी बाहर हो गया था जबकि उसने जिम्बाब्वे से वह वनडे श्रृंखला हार गया था. रणतुंगा ने श्रीलंका क्रिकेट के अध्यक्ष तिलंगा सुमतिपाला पर सट्टेबाजी में शामिल होने का आरोप लगाया था जिसका उन्होंने खंडन किया था. रणतुंगा ने कहा कि टीम में कोई उचित अनुशासन नहीं है. लेकिन क्रिकेटरों को दोष देने का कोई कारण नजर नहीं है जबकि वे सभी तरह की सट्टेबाजी में लिप्त हैं. पहले उन्हें अधिकारियों को व्यवस्थित करना होगा.

रिपोर्ट में कहा गया था कि श्रीलंकाई खिलाडियों को कथित मैच फिक्सिंग में शामिल करने की कोशिश की गयी थी. रणतुंगा ने कहा कि आईसीसी को सुमतिपाला के कथित सट्टेबाजी से जुड़े तारों और श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड के कामकाज की जांच करनी चाहिए. सुमतिपाला ने इन आरोपों का खंडन किया. उन्होंने कहा कि मैं निजी तौर पर, परोक्ष या अपरोक्ष तौर पर सट्टेबाजी से जुडऩे का खंडन करता हूं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi