S M L

'अफगानिस्तान के सामने फिरकी के लिए माकूल विकेट बनाने की गलती ना करे भारत'

14 जून से बेंगलुरु में अफगानिस्तान की टीम अपना ऐतिहासिक पहला टेस्ट मुकाबला खेलेगी

Updated On: Jun 07, 2018 02:36 PM IST

FP Staff

0
'अफगानिस्तान के सामने फिरकी के लिए माकूल विकेट बनाने की गलती ना करे भारत'

फिरकी गेंदबाजी को शुरूआत से ही भारत की ताकत माना जाता रहा है. भारत दौरे पर आने वाले हर विदेशी टीम भारतीय स्पिनर्स और उनके लिए बने माकूल विकेट्स को लेकर सतर्क रहती है. लेकिन 14 जून को भारतीय टीम बेंगलुरु में जिस अफगानिस्तान की टीम का सामना करने उतरेगी. अफगानिस्तान के पूर्व कोच ने चेतावनी दी है कि बीसीसीआई स्पिन फ्रेंडली विकेट बनाएगी तो उसका यह दांव टीम इंडिया पर ही भारी पड़ जाएगा.

समाचार पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक 2016-17 में अफगानिस्तान के कोच रहे लाल चंद राजपूत का कहना है कि अगर भारत ने चिन्नास्वामी स्टेडियम में स्पिन ट्रैक दिया तो फिर अफगानिस्तान के फिरकी गेंदबाज भारत के लिए मुसीबत खड़ी कर सकते हैं. हालांकि भारतीय टीम में आर अश्विन, रवींद्र जडेजा और कुलदीप यादव जैसे गेंदबाज मौजूद हैं, लेकिन मेहमान टीम के फिरकी गेंदबाजों ने हाल ही में जोरदार प्रदर्शन किया है.

अफगानिस्तान के मशहूर फिरकी गेंदबाज राशिद खान आईपीएल में कहर ढहाने के बाद बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 सीरीज में भी जोरदार लय में नजर आ रहे हैं. बांग्लादेश के खिलाफ दो मुकाबलों में राशिद खान ने महज 25 रन देकर सात विकेट हासिल किए हैं.

इससे पहले राशिद ने आईपीएल सनराइजर्स हैदराबाद के लिए 21.80 की बेहतरीन औसत से 21 विकेट हासिल करके अपनी टीम को फाइनल तक पहुंचाने में अहम भूमिका अदा की थी.

राशिद खान के अलावा मुजीब उर रहमान और मोहम्मद नबी भी अपनी फिरकी गेंदबाजी से भारतीय बल्लेबाजों को मुश्किल में डाल सकते हैं. राजपूत के मुताबिक भारत इस मुकाबले में अफगानिस्तान के लिए सीमिंग ट्रैक मुहैया कराना चाहिए वरना अफगानिस्तान की टीम अपने पहले टेस्ट में भारतीय टीम को मुश्किल में डालने का माद्दा रखती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi