S M L

'मुझे विश्वास था एक रन को मना कर मैं अगली गेंद पर छक्का मारूंगा'

भारत को अंतिम ओवर में 16 रन की दरकार थी. कार्तिक ने तीसरी गेंद पर बड़े शॉट खेलने में सक्षम क्रुणाल को एक रन लेने से इनकार कर दिया था

Updated On: Feb 13, 2019 08:18 PM IST

Bhasha

0
'मुझे विश्वास था एक रन को मना कर मैं अगली गेंद पर छक्का मारूंगा'

भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ निर्णायक तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में क्रुणाल पांड्या को एक रन लेने से इनकार करने के बाद उन्हें विश्वास था कि वह छक्का मार सकते हैं.

हैमिल्टन में रविवार को हुए तीसरे और अंतिम टी20 में चीजें भारतीय टीम की योजना के अनुसार नहीं हुई और कार्तिक को इसे स्वीकार करने में कोई परेशानी नहीं है. भारत को अंतिम ओवर में 16 रन की दरकार थी. कार्तिक ने तीसरी गेंद पर बड़े शॉट खेलने में सक्षम क्रुणाल को एक रन लेने से इनकार कर दिया जिसके बाद यह बहस शुरू हुई कि उन्होंने सही फैसला किया या नहीं.

यह भी पढ़ें -Ind vs NZ, 3rd T20: कैसे सिंगल रन के कारण फैंस के निशाने पर आए दिनेश कार्तिक

कार्तिक ने कहा, ‘मुझे लगता है कि उस स्थिति (145 रन पर छह विकेट) के बाद मैंने और क्रुणाल ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की. हम मैच को ऐसी स्थिति में लाने में सफल रहे जहां गेंदबाज दबाव में थे. हमें काम खत्म करने का यकीन था. और उस समय (एक रन लेने से इनकार करने के बाद) मुझे विश्वास था कि मैं छक्का मार सकता हूं.’ पिछले कुछ वर्षों में हालांकि कार्तिक छोटे प्रारूप में भारत के लिए सबसे प्रभावी फिनिशर में से एक के रूप में उभरे हैं. कार्तिक हैमिल्टन में चूक गए लेकिन वह और क्रुणाल ही मैच को अंतिम ओवर तक लेकर गए जबकि टीम इंडिया 16वें ओवर में 145 रन तक छह विकेट गंवा चुकी थी और उसे जीत के लिए 28 ओवर में 68 रन की जरूरत थी.

यह भी पढ़े-India vs new zealand: 'टी20 में एक छोटी गलती पड़ती है भारी, कार्तिक ने यही गलती की'

उन्होंने कहा, ‘मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाज के रूप में कई बार आपको दबाव में बड़े शॉट खेलने की अपनी क्षमता पर विश्वास करना होता है. उस समय अपने जोड़ीदार पर भरोसा करना भी महत्वपूर्ण है. उस मौके पर मैं उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा लेकिन क्रिकेट के खेल में ऐसी चीजें होती हैं.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi