S M L

एडुलजी ने किया खुलासा, नियमों को ताक पर रखकर कुंबले की जगह बैठाया गया था शास्‍त्री को

एडुलजी ने कहा कि कोहली ने कुंबले को लेकर बीसीसीआई सीईओ को लगातार मैसेज किए थे, जो कुंबले के इस्‍तीफे का कारण बने

Updated On: Dec 12, 2018 11:56 AM IST

FP Staff

0
एडुलजी ने किया खुलासा, नियमों को ताक पर रखकर कुंबले की जगह बैठाया गया था शास्‍त्री को

भारतीय महिला क्रिकेट में इस समय कोच को लेकर मामला काफी गर्माया हुआ है. इस पद को लेकर प्रशासकों की समिति सीओए के अंदर भी काफी उथल पुथल चल रही है. जहां सीओए की सदस्‍या डायना एडुलजी रमेश पोवार को वापस इस पद पर लाने की मांग कर चुकी है. वहीं प्रमुख विनोद राय ने उनकी मांग को ठुकरा दिया है.

इसी के साथ एडुलजी ने अनिल कुंबले के पुरुष टीम के कोच पद से हटने को लेकर कई खुलासे कर दिए है. क्रिकइंफो की खबर के मुताबिक एडुलजी ने कहा कि पिछले साल बीसीसीआई ने रवि शास्‍त्री को कुंबले की जगह दी देकर नियम तोड़े थे. उन्‍होंने कहा कि भारतीय कप्‍तान विराट कोहली ने बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी को कुंबले को लेकर लगातार मैसेज भेजे थे, जो आखिरकार कुंबले के इस्‍तीफे का कारण बने. जबकि कुंबले का करार 2017 चैंपियंस ट्रॉफी तक का था. जिसे बाद में वेस्‍टइंडीज दौरे तक के लिए बढ़ा दिया था. लेकिन उन्‍हें चैंपियंस ट्रॉफी के तुरंत बाद ही जाना पड़ा. हालांकि सीओए, क्रिकेट एडवाइजरी कमिटी इस मामले को सुलझाने के लिए कोहली से मिले भी थे, लेकिन असफल रहे. यही वह समय था जब रवि शास्‍त्री ने कोच पद के लिए आवेदन किया और 2019 विश्‍व कप तक के लिए उन्‍हें मुख्‍य कोच की जिम्‍मेदारी दी.

एडुलजी के कहा कि अगर कोच चयन में पुरुष टीम के कप्तान विराट कोहली की पसंद का ख्याल रखा जा सकता है तो सीओए प्रमुख विनोद राय को महिला टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर की पसंद का भी ख्याल रखना चाहिए जो रमेश पोवार को टीम का कोच बरकरार रखना चाहती हैं.

एडुलजी ने ईमेल में लिखा कि अनिल कुंबले खुद एक दिग्गज हैं और उन्हें खलनायक की तरह दिखाया गया. उन्होंने विनम्रता दिखाई और आगे बढ़ गए. जिसके लिए मैं उनका सम्मान करती हूं. वहां भी नियमों को ताक पर रखा गया था और मैंने विरोध किया था. एडुलजी ने कहा कि कोच के मुद्दे पर हरमनप्रीत कौर और उपकप्तान स्मृति मंधाना की मांग पर विचार किया जाना चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi