विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

वो ट्रेन में सफर करता है, तो खबर होती है...

13 साल बाद महेंद्र सिंह धोनी ने किया ट्रेन से सफर

FP Staff Updated On: Feb 22, 2017 05:34 PM IST

0
वो ट्रेन में सफर करता है, तो खबर होती है...

वो, जिन्हें दुनिया के सबसे अमीर खिलाड़ियों में गिना जाता है. वो, जिनकी हमर से लेकर तमाम गाड़ियों की चर्चा होती है. वो, जिसने रेलवे में टीटीई के तौर पर अपना करियर शुरू किया. वही महेंद्र सिंह धोनी जब ट्रेन में सफर करते हैं, तो खबर बन जाती है. 13 साल बाद धोनी ट्रेन में बैठे. उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में हिस्सा लेने के लिए झारखंड वनडे क्रिकेट टीम के साथ रांची से हावड़ा की यात्रा ट्रेन से की. इसके साथ ही धोनी के 2000 के दशक के संघर्ष के शुरुआती वर्षों की यादें ताजा हो गई, जब वह खड़गपुर में टिकट इंस्पेक्टर थे.

भारत के सबसे कामयाब और कैप्टन कूल कहे जाने वाले धोनी ने क्रिया योग एक्सप्रेस में यात्रा की. दक्षिण पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय घोष ने बताया, 'उन्होंने (झारखंड ने) विशेष कोच आरक्षित नहीं कराया था और धोनी ने अपनी टीम और अन्य सवारियों के साथ सेकंड एसी में यात्रा की. उन्होंने धोनी सहित 23 यात्रियों की बुकिंग कराई थी.'

 

धोनी हावड़ा स्टेशन पर सुबह 6 बजकर 50 मिनट पर उतरे. धोनी ने इस दौरान सोशल नेटवर्क पर अपने करोड़ों प्रशंसकों के लिए सोशल वेबसाइट इंस्टाग्राम पर सेल्फी भी डाली. भारतीय टीम के लिए खेलने से पहले धोनी दक्षिण पूर्व रेलवे में ही सितंबर 2001 से जुलाई 2004 तक टीटीई के पद पर थे.

धोनी को भारतीय टीम के सभी फॉर्मेट से कप्तानी छोड़ने के बाद अपने गृह राज्य झारखंड की कप्तानी के लिए चुना गया है. 25 फरवरी से विजय हजारे ट्रॉफी के लिए झारखंड को सीरीज का अपना पहला वनडे मैच कर्नाटक से खेलना है.

 

A post shared by @mahi7781 on

धौनी ने पिछले साल भी झारखंड की टीम से विजय हजारे ट्रॉफी खेली थी, हालांकि तब वह टीम के कप्तान नहीं थे, लेकिन इस साल उन्हें टीम का कप्तान चुना गया है. दो दिन पहले ही उन्हें आइपीएल में पुणे सपरजाएंट्स की कप्तानी से हटा दिया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi