Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

श्रीलंका में घूमते-घूमते रावण की 'अशोक वाटिका' में पहुंच गए उमेश यादव

अशोक वाटिका में देखे हनुमान जी के 'पद चिन्ह', पत्नी के साथ तस्वीर की इंस्टाग्राम पर शेयर

FP Staff Updated On: Nov 02, 2017 06:33 PM IST

0
श्रीलंका में घूमते-घूमते रावण की 'अशोक वाटिका' में पहुंच गए उमेश यादव

श्रीलंका के खिलाफ तीसरा टेस्ट शुरू होने से पहले टीम इंडिया के खिलाड़ी सैर-सपाटे में व्यस्त हैं. सीरीज का आखिरी टेस्ट 12 अगस्त से पल्लेकेल में खेला जाएगा. लेकिन इससे पहले टीम इंडिया के तेज गेंदबाज उमेश यादव 'अशोक वाटिका' पहुंचे. इंस्टाग्राम पर उन्होंने तस्वीर शेयर की है, जिसमें वह अपनी पत्नी तान्या वाधवा के साथ हैं. उमेश यादव ने तस्वीर के साथ लिखा है- अशोक वाटिका में हुनमान जी के बड़े पदचिह्न....

 

Ashok vatika big foot mark of Lord hanuman ji

A post shared by Umesh Yadav (@umeshyaadav) on

 

मान्यता है कि जब रावण ने सीता का हरण किया था तब सीता ने अशोक वाटिका में 11 महीने गुजारे थे. इस स्थान पर  अशोक का विशाल वृक्ष हुआ करता था. हालांकि आज इस वाटिका में केवल एक-दो अशोक के वृक्ष बचे हैं. सीता के बैठने की जगह किसी के पैरों तले न पड़े इसीलिए यहां मंदिर बनाया गया है. यहां भारत से ही नहीं, अन्य देशों से भी सैलानी यहां आते हैं.

अशोक वाटिका में सीता कुंड से थोड़ा आगे बढ़ने पर दो विशाल पैरों के निशान हैं. जिन्हें अब पीले पेंट से संजोये रखा गया है. माना जाता है कि सीता की तलाश में जब हनुमानजी लंका पहुंचे थे, तो अशोक वाटिका में पड़े ये उनके पहले चरण थे. हनुमान ने अपने साथ राम की भेजी अंगूठी सीता को सौंपी थी और भरोसा दिलाया था कि राम रावण को पराजय करने और उन्हें यहां से ले जाने जरूर आएंगे

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi