S M L

मुआवजे का मुकदमा हारने के बाद अब पीसीबी के पूर्व चेयरमेन की हो रही है फजीहत

आईसीसी ने पीसीबी के दावे को तो खारिज किया ही साथ ही उसे बीसीसीआई को 12 लाख डॉलर के भुगतान का भी आदेश दिया है

Updated On: Dec 21, 2018 10:56 AM IST

FP Staff

0
मुआवजे का मुकदमा हारने के बाद अब पीसीबी के पूर्व चेयरमेन की हो रही है फजीहत

आईसीसी के पंचाट में भारत के खिलाफ हर्जाने का मुकदमा हारने के बाद पाकिस्तान को जोर का झटका लगा है. आईसीसी ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को निर्देश दिया है कि वह बीसीसीआई को उस रकम की 60 फीसदी हिस्सा अदा करे जो इस केस को लड़ने किए बीसीसीआई ने खर्च की है . पहले ही  आर्थिक बदहाली झेल रहे पीसीबी के लिए यह बड़ा झटका है और इसके लिए बोर्ड को पूर्व अध्यक्ष नजम सेठी को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है. उन्हीं के अध्यक्ष रहते पीसीबी ने आईसीसी में यह मामला दायर किया था.

अब इस मसले पर लिये आलोचना झेल रहे  पूर्व पीसीबी अध्यक्ष नजम सेठी ने गुरुवार को कहा कि यह उनका खुद का फैसला नहीं थी. राष्ट्रीय संस्था के गवर्नर्स बोर्ड ने सर्वसम्मति से यह फैसला किया था.

आईसीसी विवाद निवारण समिति ने बुधवार को पाकिस्तान को बीसीसीआई को लगभग 12 लाख डालर का भुगतान करने का आदेश दिया है आईसीसी ने इससे पहले पीसीबी के मुआवजे दावे को नामंजूर कर दिया था. पीसीबी ने अपने दावे में भारत पर दोनों देशों के बीच बाइलेटरल सीरीज के समझौते का सम्मान नहीं करने का आरोप लगाया था.

 

 

सेठी ने ट्वीट किया, ‘बीसीसीआई के खिलाफ आईसीसी विवाद निवारण समिति के पास जाने का फैसला पीसीबी गवर्नर्स बोर्ड ने चेयरमैन शहरयार खान के नेतृत्व में सर्वसम्मति से किया था.’ उन्होंने कहा कि हमेशा हारने वाला पक्ष जीतने वाले पक्ष को पूरे खर्चे का भुगतान करता है. सेठी ने कहा, ‘आईसीसी ने बीसीसीआई के खर्चे का केवल 60 प्रतिशत भुगतान ही पीसीबी को करने के लिए कहा है क्योंकि वह मानता है कि पीसीबी ने वैध मसला उठाया था.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi