S M L

बीसीसीआई की एंटी डोपिंग व्यवस्था से संतुष्ट है सीओए

नाडा और बीसीसीआई के बीच क्रिकेटरों के डोप टेस्ट के लेकर छिड़ी जंग के थमने के आसार नहीं

Updated On: Nov 03, 2017 03:14 PM IST

FP Staff

0
बीसीसीआई की एंटी डोपिंग व्यवस्था से संतुष्ट है सीओए

एक ओर जहां नेशनल एंटी डोपिंग एंजेंसी यानी नाडा और खेल मंत्रालय क्रिकेटरों को अपने दायरे में लाने की पुरजोर कोशिशों में लगे हैं वहीं दूसरी ओर बीसीसीआई इस मामले में कतई कोई समझौता करने के मूड नहीं दिख रही है. नाडा की ओर से पिछले दिनों वर्ल्ड एंटी डोपिंग एजेसी यानी वाडा की चिट्ठी को मीडिया में लीक करके बोर्ड पर दबाव बनाने की कोशिश की गई लेकिन बोर्ड झुकने के लिए तैयार नहीं है.

वाडा की चिट्ठी में कहा गया है कि अगर नाडा क्रिकेटरों का डोप टेस्ट नहीं करती है तो आगे चलकर उसकी मान्यता को समाप्त किया जा सकता है जिससे देश में बाकी खेलों पर विपरीत असर पड़ेगा. इसके बाद खेल मंत्रालय की ओर से भी कहा गया कि वह अपने अधिकारियों को क्रिकेटरों का डोप टेस्ट करने के लिए भेजेगा. इस तरह के दबावों के बीच गुरूवार को मुंबई में बोर्ड के संचालन के लिए सुप्रीम कोर्ट की बनाई समिति यानी सीओए की मीटिंग यह मसला भी उठा.

समाचार पत्र मिड डे के मुताबिक विनोद राय की अगुआई वाली सीओए डोपिंग को लेकर बीसीसीआई की व्यवस्था से संतुष्ट है. बोर्ड के अधिकारी के मुताबिक सीओए ने इस मसले पर अधिकारियों से विस्तार से चर्चा की. और वह क्रिकेटरों के टोप टेस्ट के लिए बीसीसीआई के सिस्टम के पूरी तरह से संतुष्ट हैं. यानी साफ है कि इस मसले पर नाडा और बीसीसीआई की जंग जल्दी ही थमती नहीं दिख रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi