S M L

चकाबवा और क्रेमर ने वेस्टइंडीज की जीत की उम्मीदों पर पानी फेरा

जिंबाब्वे ने लगातार दस हार के बाद वेस्टइंडीज से दूसरा टेस्ट ड्रॉ कराया

Bhasha Updated On: Nov 08, 2017 03:15 PM IST

0
चकाबवा और क्रेमर ने वेस्टइंडीज की जीत की उम्मीदों पर पानी फेरा

जिंबाब्वे ने निचले क्रम के बल्लेबाजों रेगिस चकाबवा और ग्रीम क्रेमर की जुझारू पारियों के दम पर गुरुवार को बुलावायो में वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरा टेस्ट क्रिकेट मैच ड्रॉ कराकर लगातार दस हार के क्रम पर रोक लगाई.

मैच ड्रॉ कराने में सिकंदर रजा (89) , चकाबवा (नाबाद 71) ग्रीम क्रेमर (नाबाद 28) ने अहम भूमिका निभाई. जिंबाब्वे ने जब अपनी दूसरी पारी में सात विकेट पर 307 रन बनाए थे तब अंपायरों ने मैच ड्रॉ कराने का फैसला किया. वेस्टइंडीज ने इस तरह से दो मैचों की सीरीज 1-0 से अपने नाम की.

यह 2013 के बाद पहला अवसर है जबकि जिंबाब्वे किसी टेस्ट में हार से बचने में सफल रहा. इस बीच उसे लगातार दस टेस्ट मैचों में हार का सामना करना पड़ा था.

जिंबाब्वे ने सुबह अपनी दूसरी पारी चार विकेट पर 140 रन से आगे बढ़ाई. तब वह वेस्टइंडीज से केवल 18 रन आगे था, लेकिन रजा, चकाबवा और क्रेमर ने पिच पर पांव जमाने की अपनी कला का शानदार नमूना पेश करके कैरेबियाई टीम को कोई मौका नहीं दिया.

रजा ने अपनी पारी में 203 गेंदें खेलीं, जबकि पीटर मूर ने 164 गेंदों पर 42 रन बनाए. लेकिन वह चकाबवा और क्रेमर थे जिन्होंने वेस्टइंडीज की जीत की उम्मीदों पर पानी फेरा. इन दोनों ने 48.4 ओवर तक कोई विकेट नहीं गिरने दिया और इस बीच 91 रन जोड़े. चकाबवा ने 192 जबकि क्रेमर ने 150 गेंदें खेलीं.

जिंबाब्वे ने पहली पारी में 326 रन बनाए थे. जिसके जवाब में वेस्टइंडीज ने 448 रन बनाकर 122 रन की बढ़त हासिल की थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi