S M L

अगर विराट की ये पारी नहीं देखी... तो क्या देखा?

इंग्लैंड के खिलाफ शतक के साथ सचिन के बराबर पहुंचे विराट

FP Staff Updated On: Jan 16, 2017 02:17 PM IST

0
अगर विराट की ये पारी नहीं देखी... तो क्या देखा?

क्या कुछ है, जिसे यह शख्स नहीं कर सकता? कुछ ऐसा ही सवाल इंग्लैंड के बल्लेबाजों के मन में होगा. ऐसा लगता है कि मैदान पर जो कुछ हो रहा है, वो विराट की मर्जी से हो रहा है.

याद कीजिए उस एक गेंद को. ऑफ स्टंप के बाहर वोक्स की गेंद थी. ऑफ साइड पर फील्ड पूरी तरह व्यस्त थी. वोक्स की गेंद ऑफ स्टंप के बाहर थी, जिसे विराट ने महज कलाइयों से फ्लिक ही किया था. गेंद मिड विकेट बाउंड्री के बाहर चली गई. यह महज एक शॉट नहीं था. यह गेंदबाजों के सामने ऐलान था कि इस जगह का बॉस मैं हूं. वही विराट ने किया.

जिस वक्त विराट कोहली एक के बाद एक शॉट खेल रहे थे, उस वक्त इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज माइकल वॉन ट्वीट कर रहे थे कि यह शख्स किसी और प्लैनेट का है.

 

उन्होंने एक ऑनलाइन पोल भी शुरू कर दिया कि इस वक्त तीनों फॉरमेट में दुनिया का बेहतरीन बल्लेबाज कौन है. क्या इसमें विराट के अलावा और किसी का नाम आ सकता था?

 

यह दिन ही ऐसा था. दिन ही नहीं, यह समय ही ऐसा है. विराट की हर पारी अहसास दिलाती है कि इससे बेहतर क्या होगा. हर बार वो अगली पारी के लिए उतरते हैं और पहले से बेहतर शॉट्स खेल जाते हैं. याद होगा टी 20 क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वो पारी, जो उन्होंने मोहाली में खेली थी. उस मैच के बाद कई दिग्गजों ने कहा था कि इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता. रविवार की इस पारी के बाद भी कुछ ऐसा ही कहा जाएगा. वाकई इससे बेहतर आप क्या उम्मीद कर सकते हैं.

विराट ने 50-50 ओवर के क्रिकेट में 27वां शतक जमाया. वो भी तब, जब टीम चार विकेट पर 63 रन बनाकर संघर्ष कर रही थी. शिखर धवन, केएल राहुल, युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी आउट हो चुके थे. यहां से कोहली और जाधव ने पारी को संभाला और ऐसे शॉट्स खेले, जो मंत्रमुग्ध करने के लिए काफी थे.

मैच रिपोर्ट पढ़ें

पिछली 14 वनडे पारियों में कोहली दस बार अर्ध शतक से ज्यादा बनाने में कामयाब हुए हैं. 17वीं बार रनों का पीछा करते हुए उन्होंने शतक जमाया है. इस मामले में वो सचिन तेंदुलकर के बराबर आ गए हैं. सचिन ने इसके लिए 232 पारियां खेली थीं. कोहली ने सिर्फ 96 पारियों में ये कमाल किया है.

तमाम कीर्तिमानों की बात होगी. कीर्तिमान बनेंगे, टूटेंगे. विराट उनके साथ जुड़ते रहेंगे. लेकिन वो सच्चा आनंद किसी भी कीर्तिमान से बड़ा है, जो उन्होंने करोड़ों क्रिकेट प्रेमियों को दिया है. जिसने रविवार को विराट की पारी नहीं देखी, वो समझ नहीं सकता कि उसने क्या मिस किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
FIRST TAKE: जनभावना पर फांसी की सजा जायज?

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi