S M L

'मैच फिक्सिंग माफिया का निशाना बन सकते हैं पांड्या'

बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी का मानना है कि माफिया ‘हनी ट्रैप’ में फंसाने के लिए भी जाने जाते हैं.

Updated On: Jan 11, 2019 08:47 AM IST

Bhasha

0
'मैच फिक्सिंग माफिया का निशाना बन सकते हैं पांड्या'

बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी का मानना है कि हार्दिक पांड्या की ओछी बातों से वह मैच फिक्सिंग माफिया का निशाना बन सकते हैं जो ‘हनी ट्रैप’ में फंसाने के लिए भी जाने जाते हैं. पांड्या और उनके साथी केएल राहुल को चैट शो ‘काफी विद करण’ में महिलाओं पर विवादास्पद टिप्पणियों के लिए निलंबन झेलना पड़ सकता है.

चौधरी ने सीओए सदस्य डायना एडुल्जी को भेजे गए ईमेल में लिखा है कि इस तरह की टिप्पणियों का व्यापक असर पड़ सकता है. विश्व भर में मैच फिक्सिंग में शामिल संगठित माफिया ऐसे खिलाड़ियों को निशाना बना सकते हैं.

उन्होंने कहा कि आईसीसी भ्रष्टाचार निरोधक अधिकारी सबसे पहली चेतावनी खिलाड़ियों को ‘हनी ट्रैप’ जैसी स्थिति से बचने के लिए देते हैं और कार्यक्रम में की गई टिप्पणियों से लगता है कि ये खिलाड़ी इसमें फंस सकते हैं.

वहीं जबकि सीओए प्रमुख विनोद राय ने खिलाड़ियों पर दो मैच के बैन की सिफारिश की ह, वहीं चौधरी ने एक लंबित जांच और दोनों के लिए जेंडर सवंदीकरण प्रोग्राम की सिफारिश की है. चौधरी ने मी टू कैंपेन के तहत यौन उत्पीड़न फंसने के बाद क्लीयर चिट मिली बीसीसीआई सीओए राहुल चौधरी पर भी कटाक्ष करते हुए कहा है कि उन्हें भी जांच समिति ने इस प्रोग्राम से गुजरने की सलाह दी थी. चौधरी ने इस बात की भी जांच की मांग की, कि दोनों खिलाड़ी कैसे एक मनोरंजन जैसे कार्यक्रम में गए. पहले के अनुबंध के कारण शो में जाने के लिए अनुबंधित खिलाड़ियों को अनुमति लेनी होगी. चौधरी ने एडुल्जी स अपनी प्रतिक्रिया में पूछा कि क्या ऐसी अनुमति दी गई थी, क्या ऐसी अनुमति ली गई थी, यदि हां तो किसके द्वारा. चौधरी ने सवाल उठाया कि बीसीसीआई ने कैसे खिलाड़ियों को मनोरंजन शो के लिए अनुमति देते हुए खेल पत्रकारों को अलग कर दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi