S M L

11 दिसंबर की एसजीएम में होगी नाडा विवाद पर चर्चा - बीसीसीआई

इसके साथ ही आरसीए का निलंबन समाप्त करना, वर्ष 2019 से 2021 तक तक भविष्य का दौरा कार्यक्रम (एफटीपी) पर भी चर्चा होगी

Bhasha Updated On: Nov 28, 2017 09:35 AM IST

0
11 दिसंबर की एसजीएम में होगी नाडा विवाद पर चर्चा - बीसीसीआई

भारतीय क्रिकेटरों के डोप परीक्षण को लेकर नाडा के साथ चल रही तनातनी पर बीसीसीआई की राष्ट्रीय राजधानी में 11 दिसंबर को होने वाली  विशेष आम सभा (एसजीएम) में चर्चा की जाएगी.

इसके अलावा राजस्थान क्रिकेट संघ का निलंबन समाप्त करना, वर्ष 2019 से 2021 तक तक भविष्य का दौरा कार्यक्रम (एफटीपी) और भंग आईपीएल फ्रेंचाइजी कोच्चि टस्कर्स केरल के मुआवजे का दावा भी एजेंडा भी शामिल है.

बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना ने कहा कि जहां तक एसजीएम का सवाल है तो बोर्ड के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने आधिकारिक अधिसूचना भेजी है.

इस महीने के शुरू में राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) को भेजे गए कड़े जवाब में बीसीसीआई ने कहा कि इस सरकारी संस्था के पास भारतीय क्रिकेटरों का डोप परीक्षण करने का अधिकार नहीं है.

एसजीएम में इस विषय पर चर्चा होगी हालांकि उच्चतम न्यायालय से नियुक्त प्रशासकों की समिति (सीओए) ने फैसला किया है कि बीसीसीआई को नाडा के तहत आने की जरूरत नहीं है क्योंकि पहले ही एक संतोषजनक डोपिंग रोधी प्रणाली काम कर रही है.

जहां तक आरसीए का सवाल है तो इस राज्य संघ को बीसीसीआई ने मई 2014 में पूर्व आईपीएल आयुक्त ललित मोदी के फिर से अध्यक्ष चुने जाने के बाद निलंबित कर दिया था.

उच्च न्यायालय की देखरेख में फिर से चुनाव कराए गए और कांग्रेस नेता सीपी जोशी को इस साल जून में अध्यक्ष घोषित किया गया. उन्होंने मोदी के बेटे रूचिर को हराया.

एजेंडे में शामिल एक महत्वपूर्ण मसला कोच्चि टस्कर्स केरल से जुड़ा विवाद है क्योंकि बीसीसीआईको समझौते का उल्लंघन करके उसका अनुबंध समाप्त करने के कारण अब मोटी धनराशि चुकानी पड़ सकती है. इस फ्रेंचाइजी ने 850 करोड़ रूपए के मुआवजे का दावा किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi