S M L

एक बार फिर आमने-सामने हुईं बीसीसीआई और आईसीसी

भारत पर आर्थिक निर्भरता को कम करने करने की आईसीसी की रणनीति पर बोर्ड को है कड़ा एतराज

Updated On: May 18, 2018 09:57 AM IST

FP Staff

0
एक बार फिर आमने-सामने हुईं बीसीसीआई और आईसीसी

दुनिया भर में क्रिकेट को चलाने वाली संस्था आईसीसी जरूर है लेकिन आर्थिक रूप से उसे दुनिया के सबसे अमीर बोर्ड  बीसीसीआई पर निर्भर रहना होता है. आईसीसी के वर्किंग ग्रुप की मीटिंग यह बात भी उठी है कि आईसीसी को इस मसले पर बीसीसीआई पर अपनी निर्भरता को कम करना चाहिए. आईसीसी के ये इरादे बीसीसीआई को रास नहीं आ रहे हैं.

बोर्ड के एक टॉप अधिकारी ने आईसीसी के वर्किंग ग्रुप की उस टिप्पणी पर कड़ी आपत्ति व्यक्त की जिसमें भारत के राजस्व जुटाने पर अति-निर्भरता की बात कही गयी थी.

बीसीसीआई कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी और कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी ने एक बैठक में इस समूह को अपनी नाराजगी बयां की जिसने अपनी वैश्विक रणनीति रिपोर्ट में प्रसारणकर्ताओं की कमी के अलावा भारत पर अति-निर्भरता को आयडेन्टिफाइ किया गया है.

साथ ही बीसीसीआई ने यह भी साफ किया है कि लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों के अमल में आने के बाद कुछ और यूनिट्स उससे जुड़ जाएओगी लिहाजा उसे ज्यादा धन की जरूरत पड़ेगी साथ ही बोर्ड महिला क्रिकेट पर भी काफी निवेश कर रहा है लिहाजा आईसीसी के फाइनेंशियल मॉडल में बीसीसीआई की अहमियत को कम नहीं किया जा सकता.

भारत में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी को वर्ल्ड टी 20 में बदले जाने पर भी बोर्ड में आईसीसी को लेकर भारी नाराजगी है.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi