S M L

क्यों ठोका बीसीसीआई ने पाकिस्तान पर 15 करोड़ रुपए का दावा!

आईसीसी की अदालत में बीसीसीआई के खिलाफ मुकदमा हारने के बाद पीसीबी को दोहरा झटका

Updated On: Dec 12, 2018 04:54 PM IST

FP Staff

0
क्यों ठोका बीसीसीआई ने पाकिस्तान पर 15 करोड़ रुपए का दावा!

बीसीसीआई से करीब साढ़े चार सौ करोड़ रुपए का हर्जाना लेना चाह रहे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यानी पीसीबी को अब दोहरा झटका लगा है. पिछले महीने आईसीसी की अदालत में पीसीबी का दावा खारिज होने के बाद अब बीसीसीआई ने पीसीबी के खिलाफ 15 करोड़ के हर्जाने का दावा ठोक दिया है. भारतीय बोर्ड की ओर से इस दावे में उस लीगल खर्च को वसूलने की बात कही गई हैं जो पाकिस्तान के मुकदमे चलते भारत को उठाना पड़ा है.

मुंबई मिरर की खबर के मुताबिक आईसीसी की डिस्प्यूट रिजॉल्यूशन कमेटी में बीसीसीआई की ओर से एक चिट्ठी लिखकर पीसीबी से 15 करोड़ रुपए वसूलने की मांग की है. भारत का दावा है इस मुकदमें में उसे कुल 15 करोड़ रुपए खर्च करने पड़े जो पीसीबी को चुकाने चाहिए.

दरअसल पीसीबी ने भारतीय बोर्ड पर आरोप लगाया था कि पाकिस्तान की टीम के साथ भारतीय टीम के बाइलेटरल सीरीज ना खेलने के चलते उसे करोड़ों रुपए का नुकसान उठाना पड़ा है. पीसीबी का दावा था कि बीसीसीआई ने बाइलेटरल सीरीज ने खेलकर वादाखिलाफीगल्गो की है. जबकि बीसीसीआई का तर्क था कि उसकी ओर के पाकिस्तान को लिखित में ऐसा कोई आश्वासन नहीं दिया था लिहाजा वादाखिलाफी का सवाल ही पैदा नहीं होता. भारत और पाकिस्तान के बीच साल 2013 के बाद से कोई बाइलेटरल सीरीज नहीं खेली गई है.

आईसीसी में बीसीसीआई के तर्क को सही पाया गया और पीसीबी अपना केस हार गया. इस फैसले में यह भी कहा गया था कि जीतने वाला बोर्ड दूसरे बोर्ड से अपना लीगल खर्च मांग सकता है. अब बीसीसीआई ने इस केस में खर्च हुई रकम मांग ली है और यह पीसीबी के जख्मों पर नमक छिड़कने जैसा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi