S M L

फ्री टिकिट्स का अपना कोटा घटाकर भी कम नहीं हो रही बीसीसीआई की मुश्किल...

महज 10 फीसदी फ्री टिकिट्स के साथ मैच आयोजित कराने से पीछ हट रही हैं स्टेट एसोसिएशंस

Updated On: Oct 09, 2018 04:38 PM IST

FP Staff

0
फ्री टिकिट्स का अपना कोटा घटाकर भी कम नहीं हो रही बीसीसीआई की मुश्किल...

बीसीसीआई ने भले ही भारत में होने वाले इंटरनेशनल मुकाबलों में अपने कोटे के फ्री टिकट्स की संख्या को आधा कर दिया हो लेकिन इससे भी स्टेट ऐसिएशंस की समस्या खत्म होती नहीं दिख रही है और भारत दौरे पर आई कैरेबियाई टीम के मुकाबलों पर छाए संकट के बादल अब तक नहीं छंटे हैं.

फ्री टिकट्स के मसले पर इंदौर में भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेला जाने वाला वनडे मुकाबला विशाथापट्टनम शिफ्ट हो चुका हैं और तमिलनाडु क्रिकेट ऐसोसिएशन ने भी 11 नवंबर को होने वाले टी20 मुकाबले को आयोजित कराने पर कोई अंतिम फैसला नहीं लिया है. वहीं कोलकाता में चार नवंहर को होने वाले मुकाबले पर असमंजस की स्थिति बनी हुई है.

अब महाराष्ट्र में इस सीरीज के मुकाबलों पर संकट छाता दिख रहा है. पुणे में 27 अक्टूबर को वनडे मुकाबला होना है जबकि मुंबई में 29 अक्टूबर को मैच होना है. मुबई क्रिक्ट सोसिएशन महज 10 फीसदी फ्री टिकट्स के नियम को लेकर अड़ी हुई है जबकि महाराष्ट्र क्रिकेट ऐसोसिएओशन का कहना है कि उसे मैच आयोजित करने के लिए बोर्ड से 10 करोड़ रुपए एडवांस में चाहिए.

दरअसल बोर्ड के नए संविधान के मुताबिक अब हर टरनेशनल मुकाबले में स्टेडियम की कुल क्षमता की 90 फीसदी टिकिट्स को बिक्री के लिए रखा जाना अनिवार्य है यानी महज 10 फीसदी टिकिट्स ही फ्री में बांटी जा सकती हैं. सीओए के मुखिया विनोद राय ने इस हालात पर मुंबई मिरर से कहा है कि सीरीज से मुकाबले तय वक्त पर ही आयोजित होंगे भले ही इसके लिए वैकल्पिक मैदानों का चयन क्यों ना करना पड़े.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi