S M L

बीसीसीआई कोई सरकारी बॉडी नहीं जिस पर आरटीआई लागू कर दें- विनोद राय

'टीम सेलेक्शन, खिलाड़ियों की चोट और डोप रिपोर्ट की जानकारी सार्वजनिक नहीं की जा सकती'

Updated On: Oct 04, 2018 05:09 PM IST

FP Staff

0
बीसीसीआई कोई सरकारी बॉडी नहीं जिस पर आरटीआई लागू कर दें- विनोद राय

केन्द्रीय सूचना आयोग यानी सीआईसी ने भले ही बीसीसीआई को आरटीआई से तहत लाने का देश सुनाया हो लेकिन बोर्ड इसे लागू करने के मूड में कतई नहीं है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत बीसीसीआई को चला रही प्रशासकों की समिति यानी सीओए के मुखिया विनोद राय ने स्प्षट किया है कि बोर्ड एक स्वायत्त बॉडी है और इसे आरटीआई के अंतर्गत नहीं लाया जा सकता है.

एएनआई को दिए इंटरव्यू में विनोद राय ने कहा है, ‘ हम पहले भी कह चुके हैं कि बीसीसीआई सरकारी बॉडी नहीं है लिहाजा इसे आरटीआई से अंजर में नहीं लाया जा सकता. हम इस मसले को लेकर मई में मद्रास हाइकोर्ट जा चुके हैं और हमने सीआईसी को कहा भी था कि चूंकि यह मसला अब अदालत में है लिहाजा इस पर फैसला नहीं दिया जा सकता.’

 

हालंकि विनोद राय ने यह भी कहा कि उन्हों बीसीसीआई को किसी हद कर पारदर्शी बना भी दिया है और टीम सेलेक्शन, खिलाड़ियों की चोट और डोपिंग से जुड़े मसलों के अलावा हर बात पर पब्लिक की जानकारी में रखना चाहते हैं.

विनोद राय का बयान बोर्ड के अधिकारिय़ो के उस रुख के बाद आया है जिसमें उन्होंने सीओए पर सीआईसी की सुनवाई क दौरान लापरवाही बरतने का आरोप लगाया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi