S M L

क्या विनोद राय ने भंग कर दी है गांगुली-सचिन-लक्ष्मण की सीएसी!

बिना किसी सीएसी मेंबर की मौजूदगी के बोर्ड ने लिए महिला टीम के कोच पद के दावेदारों के इंटरव्यू

FP Staff Updated On: Aug 12, 2018 11:11 AM IST

0
क्या विनोद राय ने भंग कर दी है गांगुली-सचिन-लक्ष्मण की सीएसी!

बीसीसीआई को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के हाल के फैसले के बाद यह साफ  हो गया है कि पूर्व खिलाड़ियों वाली क्रिकेट एडवायजरी कमेटी यानी सीएसी की भूमिका अब भारतीय टीमों को कोचों के सेलेक्शन में बेहद अहम है.

इसी बीच बीसीसीआई ने भारतीय महिला टीम के चीफ कोच के लिए करीब दो दर्जन उम्मीदवारों का इंटरव्यू कर लिया लेकिन सीएसी के सदस्यो को इसकी इत्तिला देना भी गंवारा नहीं समझा गया.

शनिवार को मुंबई में सीओए सी सदस्य डायना एडुलजी की मौजूदगी में बोर्ड के जीएम( क्रिकेट ऑपरेशंस) सबा करीम और सीईओ राहुल जौहरी ने तमाम कैंडीडेट्स का इंटरव्यू करके शॉर्ट लिस्टिंग का काम पूरा कर लिया.

महिला टीम के कोच के सेलेक्शन में सीएसी के सभी सदस्यों की गैरमौजूदगी ने यह सवाल खड़ा कर दिया है कि क्या सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्णण जैसे सदस्यों वाली सीएसी का भविष्य क्या होगा.

समाचार पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए बोर्ड के एक सूत्र का कहना है कि चूंकि अदालत के आदेश के बाद सीएसी को रोल बेहद अहम हो गया है लिहाजा इसमें अब हितों के टकराव के पहलू का भी खयाल रखना होगा. गांगुली एक स्टेट ऐसोसिएशन के प्रमुख है, लक्ष्मण एक आईपीएल टीम के मेंटोर है और सचिन के बेटे भी क्रिकेट खेलते हैं लिहाजा हितो के टकराव के मद्देनजर मौजूदा सीएसी का भंग होना लाजिमी नजर  रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi