S M L

मीडिया राइट्स: ब्रॉडकास्टर्स के इस ऐतराज लग सकती है बीसीसीआई को चपत!

भारत में खेले जाने वाले मुकाबलों की टेलीकास्ट डील का फैसला 3 अप्रेल को ई-ऑक्शन के जरिए होगा

FP Staff Updated On: Mar 31, 2018 02:45 PM IST

0
मीडिया राइट्स:  ब्रॉडकास्टर्स के इस ऐतराज लग सकती है बीसीसीआई को चपत!

पिछले साल आईपीएल के मीडिया राइट्स की नीलामी के जरिए अपनी तिजोरी भरने वाली बीसीसीआई इस बार भी भारत में खेल जाने वाले मुकाबलों के टेलीकास्ट राइट्स के जरिए हजारों करोड़ कमाने की उम्मीद लगाए बैठी है. हालंकि इस बार उसकी एक शर्त ब्रॉडकास्टर्स के गले नहीं उतर रही है और यह राइट्स खरीदने के दो बड़े दावेदार स्टार स्पोर्ट्स और सोनी पिक्चर्स नेटवर्क ने अपना ऐतराज दर्ज करा दिया है.

मसला टीम इंडिया के मुकाबलो की कीमत का नहीं है बल्कि भारत में खेले जाने वाले विदेशी टीम के मुकाबलों की कीमत का है. दरअसल बीसीसीआई ने अगले पांच सालों के लिए भारत में खेले जाने वाले सभी इंटरनेशनल मुकाबलों के टेलीकास्ट के लिए एक ही बेस प्राइस रखी है जिस पर ब्रॉडकास्टर्स को परेशानी हो रही है.

ब्रॉडकास्टर्स का तर्क है कि अहर भारत में कोई ट्राइ नेशनल सीरीज खेली जाती है और उसमें भारत के अलावा बांग्लादेश और श्रीलंका की टीमें भी शामिल होती है तो श्रीलंका और बांग्लादेश के काबले की टीआरपी उतनी नहीं रहेगी जितनी की टीम इंडया के मुकाबले की लिहाज यहऐसे मैच फायदे का सौदा नहीं होगें तो फिर उन मुकाबलों की भी उतनी ही कीमत क्यों अदा की जाए जितनी कि टीम इंडिया के मुकाबलों की.

इंडियन एक्सप्रैस के मुताबिक स्टार स्पोर्ट्स ने अपनी बात को साबित करने के लिए बांग्लादेश में 2016 में खेले गए एशियाकप के मुकाबलों का डेटा भी पेश किया है जिसमें भारत के मुकाबलों की औसत रेटिंग 9.0 रही थी जबकि बाकी मुकाबलों की रेटिंग 2.1 तक ही पहुंच सकी थी.

इन राइट्स का फैसला ई ऑक्शन के जरिए तीन अप्रैल को होना है ऐसे में देखना होगा कि बीसीसीआई ब्रॉडकास्टर्स के इस रुख पर क्या फैसला लेती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गोल्डन गर्ल मनिका बत्रा और उनके कोच संदीप से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi