S M L

विनोद राय के सख्त रुख के बाद बीसीसीआई में मची हलचल, यूपी और पंजाब ने किया सरेंडर

यूपी और पंजाब की यूनिट्स ने लिखी विनोद राय को चिट्ठी, अगले महीने लागू करेंगे लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें, 23 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में है मामले की सुनवाई

Updated On: Nov 02, 2017 05:54 PM IST

FP Staff

0
विनोद राय के सख्त रुख के बाद बीसीसीआई में मची हलचल, यूपी और पंजाब ने किया सरेंडर

लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को लागू करने में टालमटोल कर रही बीसीसीआई में सुप्रीम कोर्ट की बनाई प्रशासकों की समिति यानी सीओए के सख्त रुख के बाद अब हचलच मच गई है. अपनी पांचवीं स्टेटस रिपोर्ट सीओए ने अदालत से बोर्ड के टॉप अधिकारियों को हटाए जाने की मांग की है और इसके बाद बोर्ड के भीतर खतरे की घंटी बज गई है.

बोर्ड की दो बड़ी यूनिट्स यानी उत्तर प्रदेश क्रिकेट ऐसोसिएशन और पंजाब क्रिकेट ऐसोसिएशन ने लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को लागू करने का मन बना लिया है. यूपीसीए और पीसीए ने सीओए के मुखिया विनोद राय को लिखकर सूचित किया है कि उन्हें लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें स्वीकार हैं. इन दोनों ही संघों ने इस सिलसिले में अगले महीने मीटिंग बुलाई है जिसमें लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को लागू करने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी.

 

आपको बता दें कि पिछले महीने बोर्ड की स्पेशल मीटिंग में लोढ़ा कमेटी की कुछ सिफारिशों को लागू करने में असमर्थता जताई गई थी. इन सिफारिशों में पदाधिकारियों की आयु सीमा, कूलिंग ऑफ पीरिडय एक राज्य एक वोट सेलेक्टर्स की संख्या जैसे मसले शामिल है. इस मीटिंग में यूपीसीए और पीसीए भी शामिल थे. लेकिन अब इन दोनों संघों के इस बदले हुए रुख से साफ है कि बोर्ड के लिए अब इन सुधारों को रोकना आसान काम नहीं है. सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की अगली सुनवाई अब 23 अगस्त को होनी है.

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi