विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

डबलिन एकदिवसीय : घर से बाहर पहली बार न्यूजीलैंड से जीता बांग्लादेश

तमीम इकबाल और सब्बीर रहमान के अर्धशतक से त्रिकोणीय सीरीज का पहला एकदिवसीय जीता बांग्लादेश

FP Staff Updated On: May 25, 2017 04:14 PM IST

0
डबलिन एकदिवसीय :  घर से बाहर पहली बार न्यूजीलैंड से जीता बांग्लादेश

तमीम इकबाल (65) और शब्बीर रहमान (65) की अर्धशतकीय पारियों के अलावा महमूदुल्लाह (नाबाद 46) तथा मुशफिकुर रहीम (नाबाद 45) की संघर्ष भरी पारियों के दम पर बांग्लादेश ने न्यूजीलैंड के खिलाफ घर से बाहर अपनी पहली जीत दर्ज की है. बांग्लादेश ने बुधवार देर रात खेले गए मुकाबले में न्यूजीलैंड को 10 गेंद शेष रहते हुए पांच विकेट से हरा दिया.

पहले बल्लेबाजी करते हुए कीवी टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 270 रन बनाए थे. बांग्लादेश में 48.2 ओवरों में पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश ने सात के कुल योग पर सौम्य सरकार का विकेट खो दिया था. वह बिना खाता खोले बिना जीतन पटेल की गेंद पर आउट हुए. लेकिन इसके बाद तमीम और रहमान ने जिम्मेदारी ली और दूसरे विकेट के लिए 136 रनों की साझेदारी कर अपनी टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचा दिया था.

143  के कुल स्कोर पर तमीम को मिचेल सैंटनर ने आउट किया. रहमान 148 के कुल स्कोर पर रन आउट हुए. मोसद्दिक हुसैन 10 रनों का योगदान दे सके. शाकिब अल हसन 19 रन ही बना सके. लेकिन अंत में रहीम और महमूदुल्लाह (नाबाद 46) ने छठे विकेट के लिए 72  रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई.

इससे पहले, बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने पर पहली पारी खेलने उतरी किवी टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी. ल्यूक रोंकी दो रन बनाकर ही पवेलियन लौट गए. यहां से कप्तान टॉम लाथम (84) और नील ब्रूम (63) ने दूसरे विकेट के लिए 133 रनों की साझेदारी कर टीम के बड़े स्कोर की नींव रखी. इन दोनों के अलावा रॉस टेलर 60 रनों का योगदान देने में कामयाब रहे.

इन तीनों बल्लेबाजों के जाने के बाद बांग्लादेश के गेंदबाज कीवी टीम पर हावी हो गए और लगातार विकेट लेकर उसे बड़ा स्कोर बनाने से रोक दिया.

बांग्लादेश की तरफ से कप्तान मशरफे मुर्तजा, नासिर हुसैन और शाकिब अल हसन ने दो-दो विकेट लिए. मुस्तफिजुर रहमान और रुबेल हुसैन को एक-एक विकेट मिला.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi