S M L

बॉल टेंपरिंग: आखिरकार नींद से जागी आईसीसी, अब होगा नियमों में बदलाव

141 साल पुराने क्रिकेट इतिहास में पहली बार आईसीसी बुलाएगी ऐसी मीटिंग जिसमें क्रिकेटरों की सजा को बढ़ाने पर होगा फैसला

Updated On: Mar 29, 2018 12:46 PM IST

FP Staff

0
बॉल टेंपरिंग: आखिरकार नींद से जागी आईसीसी, अब होगा नियमों में बदलाव

ऑस्ट्रेलिया और साउथ फ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज के दौरान क्रिकेट की दुनिया में आए बॉल टेंपरिंग के तूफान के बाद आखिरकार आईसीसी भी नींद से जाग गई है. दुनिया भर में क्रिकेट को चलाने वाली इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आईसीसी ने अब क्रिकेटरों को सजा देने के नियमों में बदलाव करने का फैसला किया है.

इंडियन एक्सप्रैस की खबर के मुताबिक आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन ने दुनिया तमाम बोर्ड्स को चिट्ठी लिखकर कर इत्तिला दी है कि अब जल्द क्रिकेट कमेटी की मीटिंग बुलाकर नियमों में बदलाव किया जाएगा. खास बात यह है कि इस में मौजूदा और पुराना क्रिकेटर्स को भी शामिल किया जाएगा.

टेस्ट क्रिकेट के 141 साल पुराने इतिहास में यह पहली बार होगा जब इस तरह की मीटिंग बुलाई जाएगी. बॉल टेंपरिंग को आईसीसी के कॉड ऑफ कंडक्ट में लेवल टू का अपराध माना जाता है. जाहिर ही आईसीसी अब इसे और अधिक गंभीर अपराध की केटेगरी में शामिल करने पर विचार कर रही है ताकि इसमें शामिल क्रिकेटर्स को कड़ी और बड़ी सजा दी जा सके.

माना जा रहा है कि इस मीटिंग में स्लेजिंग और अंपायर के फैसले के खिलाफ नाखुशी जताने जैसे मामलों पर भी सजा को बढ़ाने पर विचार किया जा सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi