S M L

बॉल टेंपरिंग: वॉकी-टॉकी पर बोली इस एक लाइन ने बचा ली लीमन की नौकरी...

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख जेम्स सदरलैंड का दावा - लीमेन की जानकारी के बिना बनी थी बॉल टेंपरिंग की योजना

Updated On: Mar 29, 2018 08:54 AM IST

FP Staff

0
बॉल टेंपरिंग: वॉकी-टॉकी पर बोली इस एक लाइन ने बचा ली लीमन की नौकरी...

बॉल टेंपरिंग के मसले पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और बेनक्रॉफ्ट को तो सजा सुना दी है लेकिन कंगारू टीम के कोच डैरेन लीमन को मिली क्लीन चिट पर बहस जारी है. इस बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुखिया जेम्स सदरलैंड ने स्पष्ट किया है कि किसलिए लीमेन को इस अपराध में शरीक नहीं माना गया है.

सदरलैंड का दावा है कि जब केपटाउन के न्यूलैंड्स मैदान पर लगी बड़ी स्क्रीन पर बेनक्रॉफ्ट गेंद के साथ छेड़-छाड़ करते दिखाई दे रहे थे तो लीमेन ठीक उतने ही अचंभित थे जितने कि बाकी दर्शक

सदरलैंड्स ने खुलासा किया है कि जब लीमेन ने 12 वें खिलाड़ी पीटर हैंड्सकॉम्ब को मैदान पर बेनक्रॉफ्ट के पास संदेश देने के लिए भेजा तो वॉकी टॉकी पर उन्होंने जो कहा उसी से इस मसले पर उनकी बेगुनाही का सबूत मिला.

 

सदरलैंड का कहना है कि इस मसले की जांच करने के लिए  क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने जो दो अधिकारी नियुक्त किए हैं उनकी रिपोर्ट के मुताबिक लीमेन ने वॉकी- टॉकी पर कहा था ‘ व्हाट द हेल इस गोइंग ऑन’ , यानी यह सब क्या चल रहा है. इसी लाइन के आधार पर यह निष्कर्ष निकाला गया है कि बॉल टेंपरिंग की यह योजना लीमेन की जानकारी के बिना बनाई गई थी.

वॉकी टॉकी पर कही गई लीमन की इसी लाइन को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उनकी बेगुनाही का सबूत मानकर उन्हें पाक-साफ करार दिया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi