S M L

Asia Cup 2018: कोहली पर किसका अधिकार? बीसीसीआई और स्टार स्पोर्ट्स के बीच छिड़ी जंग...

एशिया कप में कोहली को आराम देने के फैसले पर ब्रॉडकास्टर ने उठाए सवाल, बीसीसीआई ने दिया कड़ा जवाब

Updated On: Sep 17, 2018 08:46 AM IST

FP Staff

0
Asia Cup 2018: कोहली पर किसका अधिकार? बीसीसीआई और स्टार स्पोर्ट्स के बीच छिड़ी जंग...

एशिया कप में टीम इंडिया ने अभी अपने अभियान का आगाज तक नहीं किया है लेकिन इससे पहले ही  बीसीसीआई और एशिया कप के ब्रॉडकास्टर स्टार स्पोर्टेस के बीच जंग छिड़ गई है और इस टकराव की वजह हैं विराट कोहली.

दरअसल बोर्ड ने कोहली को इस टूर्नामेंट में आराम देने का फैसला करके रोहित शर्मा को भारत की कप्तानी सौंपी है लेकिन दुनिया के सबसे रईस क्रिकेट बोर्ड का यह फैसला स्टार स्पोर्ट्स को रास नही आ रहा है.

एशिया कप के ब्रॉकास्टर स्टार स्पोर्ट्स ने एशियन क्रिकेट काउंसिल यानी एसीसी से इस बात कोलेकर आपत्ति दजताई है कि भारत ने नियमों के मुताबिक अपनी बेस्ट टीम नहीं भेजी है जिसके चलते उसका मुनाफा प्रभावित हो सकता है.

uday_shankar

 

बीसीसीआई ने हालांकि एसीसी को भेजे गये संक्षेप जवाब में स्पष्ट कर दिया कि ना तो वे और ना ही ब्रॉडकास्टर  टीम चयन के मामलों में हस्तक्षेप कर सकते हैं.

एसीसी के खेल विकास प्रबंधक तुसिथ परेरा को भेजे गये ईमेल में ब्रॉड़कास्टर नेकोहली को एशिया कप में ना भेजने पर नाराजगी जताई है.

ईमेल के अनुसार, ‘हमारे विचार से एशिया कप के लिये दुनिया के एक सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज की अनुपस्थिति की घोषणा टूर्नामेंट से महज 15 दिन पहले करना हमारे लिए करारा झटका है और इससे टूर्नामेंट से राजस्व और वित्तीय लाभ पर गहरा असर पड़ेगा.’

क्या है बीसीसीआई का जवाब

प्रसारकों ने एसीसी से बीसीसीआई से संपर्क करने को कहा और उन्होंने यह स्पष्ट किया कि मीडिया अधिकार करार (एमआरए) के मुताबिक एसीसी को यह सुनिश्चित करना होता है कि सर्वश्रेष्ठ टीमें टूर्नामेंट में भाग लें. हालांकि बीसीसीआई ने स्पष्ट किया कि नेशनल टीम का चयन देश की संस्था के अधिकार क्षेत्र में आता है और किसी भी तरह के बाहरी दखल को अनुमति नहीं दी जाएगी.

Rahul-Johr

 

बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी ने परेरा को जवाब में लिखा है, ‘कृपया इस बात को समझ लीजिए कि टूर्नामेंट में भागीदारी के लिये सर्वश्रेष्ठ टीम का चयन बीसीसीआई का विशेषाधिकार है.’

उन्होंने लिखा है, ‘एसीसी या इसके ब्रॉडकास्टर किसी एक खिलाड़ी के चयन का दबाव नहीं डाल सकते और ना ही किसी चयन समिति के फैसले पर सवाल उठा सकते हैं कि कौन सी टीम विशेष टूर्नामेंट के लिये सर्वश्रेष्ठ होगी.’

यहां गौर करने वाली बात यह भी है कि स्टार स्पोर्ट्स बीसीसीआई का भी आधिकारिक ब्रॉडकास्टर है और उसने हजारों करोड़ रुपए की रकम खर्च करके ना सिर्फ भारत के घरेलू प्रसारण अधिकार खरीदे है बल्कि पांच साल के लिए आईपीएल ब्रॉडकास्टिंग राइट्स भी इसके पास हैं.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi