S M L

Asia Cup 2018: रोहित शर्मा के लिए सिरदर्द बन सकता है मिडिल ऑर्डर

भारतीय कप्तान ने कहा, मनीष, केदार और अंबाती में से चुने जाएंगे चौथे और छठे नंबर के बल्लेबाज

Updated On: Sep 17, 2018 07:11 PM IST

Bhasha

0
Asia Cup 2018: रोहित शर्मा के लिए सिरदर्द बन सकता है मिडिल ऑर्डर

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने सोमवार को स्वीकार किया कि टीम का मध्यक्रम अब भी पूरी तरह से व्यवस्थित नहीं है और एशिया कप के दौरान उनका लक्ष्य चौथे और छठे नंबर के बल्लेबाज की पहचान करना होगा. भारत एशिया कप में अपने अभियान की शुरुआत मंगलवार को हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ करेगा और फिर इसके अगले दिन पाकिस्तान से भिड़ेगा.

लेकिन पिछले एक साल के दौरान भारत को मध्यक्रम के बल्लेबाजों के लचर प्रदर्शन के कारण परेशानी उठानी पड़ी है और इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान यह समस्या खुलकर सामने आई. रोहित ने साफ किया कि मनीष पांडे, केदार जाधव और अंबाती रायुडू जैसे बल्लेबाजों के बीच मध्यक्रम के स्थानों के लिए मुकाबला है.

उन्होंने हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘कई स्थानों को भरा जाना है जैसे कि तीसरे, चौथे और छठे नंबर के बल्लेबाज. इन सभी खिलाड़ियों (केदार, मनीष और रायुडू) की निगाहें इन स्थानों पर होंगी. हम इस सीरीज में अधिक से अधिक खिलाड़ियों को मौका देना चाहते हैं. इस टूर्नामेंट में हमें चौथे और छठे नंबर के बल्लेबाज को तय करना होगा.’

पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे धोनी

रोहित के जवाब का संकेत है कि महेंद्र सिंह धोनी पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे. अंबाती रायुडू ने यो-यो टेस्ट पास करने के बाद भारतीय टीम में वापसी की है. केदार जाधव की हैमस्ट्रिंग के आपरेशन के बाद टीम में वापस लौटे हैं.

रोहित ने कहा, ‘ये दोनों ही टीम के अहम अंग हैं. रायुडू पहले इंग्लैंड जाने वाली टीम का हिस्सा थे और इसी तरह से केदार भी चोटिल होने से पहले टीम का अहम हिस्सा थे. दुर्भाग्य से वे पिछले कुछ समय से नहीं खेल पाए, लेकिन खुशी है कि उन दोनों की वापसी हुई है. मुझे उम्मीद है कि वे भारत के लिए मैच विजेता बनेंगे.’

अच्छा प्रदर्शन करने वालों को ज्यादा मौके

इस बीच रोहित ने यह खुलासा नहीं किया कि दुबई की तेज गर्मी में वह गेंदबाजों को रोटेट करेंगे या नहीं, लेकिन कहा कि अच्छा प्रदर्शन करने वालों को ज्यादा समय तक मौका मिलेगा. उन्होंने कहा, ‘मैंने अभी इस बारे में नहीं सोचा है. हम यह देखना चाहते हैं कि प्रत्येक खिलाड़ी भिन्न परिस्थितियों में कैसा खेलता है. इसके अलावा हम अधिक से अधिक खिलाड़ियों को मौका देना चाहते हैं, लेकिन लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वालों को अधिक मौके मिलेंगे. हम देखेंगे कि कोई खिलाड़ी परिस्थितियों के हिसाब से कैसा प्रदर्शन करता है और उसी अनुसार फैसला करेंगे.’

बतौर कप्तान रोहित का पहला बड़ा टूर्नामेंट

रोहित का कप्तान के रूप में यह पहला बड़ा टूर्नामेंट है और वह इसको लेकर उत्साहित हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं उत्साहित होने के साथ थोड़ा नर्वस भी हूं. यह मेरे लिए बड़ा टूर्नामेंट है. मैं सभी खिलाड़ियों को अच्छी तरह से जानता हूं. मैं उन्हें अच्छी तरह से समझता हूं जो कि जरूरी है.’

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi