S M L

दिल्ली में 2020 तक इंटरनेशनल क्रिकेट मैच नहीं होगा, प्रदूषण नहीं बल्कि यह है वजह..

बीसीसीआई की रोटेशन पॉलिसी के मुताबिक दिल्ली के हिस्से के मैच आयोजित हो चुके हैं, अब 2020 के बाद ही दिल्ली का नंबर आएगा

Updated On: Dec 05, 2017 05:29 PM IST

FP Staff

0
दिल्ली में 2020 तक  इंटरनेशनल क्रिकेट मैच नहीं होगा, प्रदूषण नहीं बल्कि यह है वजह..

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में खेले जा रहे टेस्ट मुकाबले के दौरान दिल्ली वायु प्रदूषण से श्रीलंकाई खिलाड़ियों को हुई परेशानी और उसके बाद उससे पैदा हुआ विवाद लगातार सुर्खियों में है. बोर्ड ने खुद भी यह बात मानी है कि अब से दिल्ली में मुकाबले आयोजित कराए  जाने से पहले प्रदूषण के पहलू को भी ध्यान में रखा जाएगा.

वैसे बीसीसीआई की रोटेशन पॉलिसी की वजह से दिली को अब जल्दी है टेस्ट मैच मिलने की उम्मीद नहीं है.  बोर्ड की इस पॉलिसी के हिसाब से अब कम 2020 तक दिल्ली से इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर रहने वाली है.

New Delhi: Sri Lankan captain Dinesh Chandimal (wearingan anti-pollution mask) and Indian skipper Virat Kohli during the second day of their third test cricket match against India in New Delhi on  Sunday. PTI Photo by Atul Yadav (PTI12_3_2017_000111B)

श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने यहां भारत के खिलाफ चल रहे मौजूदा तीसर टेस्ट में धुंध के कारण सांस लेने में समस्या की शिकायत की थी जिससे वे मास्क पहनकर मैदान पर उतरे थे और इससे दिल्ली पर अंतरराष्ट्रीय खेल स्थल के रूप में सवाल उठने लगे.

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, ‘बीसीसीआई प्रत्येक वर्ष फरवरी-मार्च तक एक्सक्लूसिव घरेलू सत्र के लिये कोशिश कर रहा है. उन्हें यह समय नयए भविष्य दौरा कार्यक्रम के अनुसार फरवरी-मार्च 2020 में ही मिलेगा. इसलिये कोटला 2020 से पहले टेस्ट मैच के आयोजन के लिये लाइन में शामिल हो सकता है या नहीं भी. ’ उन्होंने कहा, ‘रोटेशन नीति के अनुसार, कोटला को अब अपना टेस्ट मैच मिल गया है और नवंबर में इसे एक टी20 मिल गया था.

उनका मौका अगले साल तक नहीं आयेगा क्योंकि भारत के लिये शायद तब एक पूर्ण सीरीज होगी. ’ इस अधिकारी ने कहा, ‘अन्य स्थल भी अपने मौके का इंतजार कर रहे हैं. इसी तरह 2019 में, जब नया भविष्य दौरा कार्यक्रम शुरू होगा तो कोटला को दूसरा मैच मिलने में कुछ समय लगेगा. ’ बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस में स्वीकार किया कि साल के इस समय दिल्ली में टेस्ट मैच के आयोजन पर चर्चा की जायेगी.

हालांकि बीसीसीआई के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि अभी कोटला को अपने कोटे के मैच मिल गये हैं जिसे बोर्ड अभी थोड़े समय तक राहत महसूस करेगा.

अधिकारी ने कहा, ‘अब 2020 में पर्यावरण के हालात कैसे होंगे, उसकी भविष्यवाणी अभी 2017 में नहीं की जा सकती है. इसलिये अगर कोटला को अगर मैच नहीं मिलता है तो यह पूरी तरह से रोटेशन नीति के अनुसार ही होगा. ’

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi