Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

काश, पीटरसन मामले को इंग्लैंड बोर्ड अच्छी तरह संभालता: कुक

एलिस्टर कुक ने कहा, ईसीबी ने उस दौरान मुझे थोड़ा नीचा दिखाया

FP Staff Updated On: Feb 09, 2017 06:32 PM IST

0
काश, पीटरसन मामले को इंग्लैंड बोर्ड अच्छी तरह संभालता: कुक

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक ने 2014 में केविन पीटरसन को टीम से हटाए जाने के फैसले पर सवाल उठाते हुए इसे दुखद करार दिया है. पीटरसन को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 0-5 से एशेज सीरीज हारने के बाद टीम के निदेशक एंड्रयू स्ट्रॉस ने 'विश्वास का भारी संकट' बताकर टीम से बाहर निकाल दिया था. कप्तानी छोड़ने के बाद कुक ने इस विवाद का जिम्मेदार इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) को ठहराते हुए कहा कि इस विवाद को सही तरीके से संभाला नहीं गया था.

कुक ने कहा, ‘काश, इसे अच्छे तरीके से संभाला गया होता. मेरा मानना है कि इसे ईसीबी ने सही तरीके से नहीं संभाला. मैं जानता हूं कि सभी की नजर में मैं खटक रहा था. हर किसी का मानना था कि यह मेरा फैसला था.

मुझे लगता है कि ईसीबी ने उस दौरान मुझे थोड़ा नीचा दिखाया. उन्होंने सब कुछ मुझ पर थोप दिया, लेकिन, अब यह बीत चुका है.’

कुक ने कहा, ‘मुझे लगता है कि इस मामले को जिस तरह से संभाला गया, उसका सभी को पछतावा है. जब एंड्रयू स्ट्रॉस बोर्ड में आए और यह फैसला लिया कि पीटरसन अब टीम में नहीं आएंगे, तब जाकर मामला थोड़ा आसान हुआ.’

कप्तानी छोड़ने के फैसले पर कुक ने कहा, ‘मेरे लिए यह मुश्किल रहा लेकिन मैंने जितना सोचा था, उससे थोड़ा आसान रहा. सबसे मुश्किल बात मेरे लिए अपने आप से यह कहना रही कि यह अब जाने का समय है क्योंकि यह बेहतरीन जिम्मेदारी थी. लेकिन आसान इसलिए लगा क्योंकि मुझे लगा कि मैं अपना काम कर चुका हूं.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi